अक्षय तृतीया पर बिका सोना

नई दिल्ली | समाचार डेस्क: छत्तीसगढ़ में अक्षय तृतीया के पर्व पर सोना खरीदने वालों की भीड़ उमड़ पड़ी. राजधानी रायपुर तथा न्यायधानी बिलासपुर में भी सोने की खरीददारी की गई. सोना खरीदने वालों की भीड़ परंपरागत सोने की दुकानों के अलावा ब्रांडेड कंपनियो की दुकानों पर भी रही. बिलासपुर में पीसी ज्वेलर्स तथा तनिष्क में तो राजधानी रायपुर में अनोपचंद-तिलोकचंद के दुकानों पर भीड़ देखी गई. सोने की बिकवाली का कारण उसका दाम स्तिर या कम रहना माना जा रहा है.

अक्षय तृतीया के मौके पर अपने जीवन में सौभाग्य का संचार करने के लिए मंगलवार को आभूषण की दुकानों पर ग्राहकों का तांता लग गया और सोना-चांदी के खुदरा कारोबारियों के मुताबिक इस अवसर पर सोने की खरीदारी आम दिनों की अपेक्षा 25 फीसदी अधिक रहने का अनुमान है. अक्षय तृतीया हिंदुओं और जैन मतावलंबियों के लिए शुभ और सफलता वाला दिन माना जाता है. इस दिन सोने की खरीददारी को शुभ माना जाता है.

कल्याण ज्वेलर्स के विपणन एवं संचालन खंड के कार्यकारी निदेशक रमेश कल्याणरमन ने कहा, “कल्याण ज्वेलर्स ने इस अक्षय तृतीया पर गत वर्ष की तुलना में स्वर्ण आभूषणों की 30 फीसदी अधिक बिक्री दर्ज की, क्योंकि सोने की कीमत 27 हजार रुपये प्रति 10 ग्राम पर स्थिर रहने और वैश्विक संकेतों के कारण बाजार का माहौल सकारात्मक रहा.”

उन्होंने कहा कि गत वर्ष के मुकाबले सोने की कीमत 10 फीसदी तक घटी है.

बेंगलुरू के धनलक्ष्मी ज्वैलर्स के दीपक जैन ने आईएएनएस से कहा, “दोपहर के बाद ग्राहकों का तांता लगने लगा और अधिक बिक्री हुई. लोगों ने नई खरीदारी की या पहले से खरीदे हुए सोने की डिलीवरी ली.”

उन्होंने कहा कि मंगलवार की बिक्री निश्चित रूप से सोमवार के मुकाबले 30 फीसदी और 15 अप्रैल के मुकाबले 35 फीसदी अधिक रही होगी.

विश्व स्वर्ण परिषद के भारत में प्रबंध निदेशक सोमासुंदरम पीआर ने कहा, “बाजार का माहौल सकारात्मक लग रहा है. यह गत वर्ष से बेहतर है. खरीदारों को कीमत पर भरोसा है.”

जेम्स एंड ज्वेलरी एक्सपोर्ट प्रमोशन काउंसिल के उपाध्यक्ष पंकज पारेख ने कहा कि पूरे देश में बिक्री अधिक रहने की उम्मीद है और मार्च में सोने का आयात अपेक्षाकृत अधिक रहा है.

रपटों के मुताबिक, मार्च में सोने का आयात दोगुने से अधिक करीब 125 टन रहा, जो एक साल पहले मार्च में 60 टन था.

सोने के आभूषण के साथ-साथ हीरे के आभूषणों की भी मांग अच्छी रही.

फोरएवरमार्क इंडिया के अध्यक्ष सचिन जैन ने कहा, “इस साल हीरे के गहनों की अधिक बिक्री हुई और यह रुझान आने वाले वर्षो में भी जारी रहने का अनुमान है. गत वर्ष की तुलना में 15 फीसदी अधिक बिक्री दर्ज की गई.”

एनएसी ज्वेलर्स के प्रबंध निदेशक एन अनंत पद्मनाभन ने चेन्नई में कहा, “गहनों की बिक्री 10 फीसदी अधिक रहने और सिक्कों की बिक्री 20 फीसदी अधिक रहने का अनुमान है.”

दिल्ली में मंगलवार को सोने की कीमत 27 हजार रुपये प्रति 10 ग्राम के आसपास रही.

दिल्ली में पीपी ज्वेलर्स के निदेशक राहुल गुप्ता ने आईएएनएस से कहा, “मंगलवार को अधिक ग्राहक आ रहे हैं.”

बेंगलुरू के प्रमुख स्वर्णाभूषण शोरूम जैसे नवरतन, भीमा, ललिता, टाइटन, कृष्णया चेट्टी, गीतांजलि जेवेल्स, डीडमस, जोयालुकास और नक्षत्र छूट और मुफ्त उपहार से ग्राहकों को लुभाने की कोशिश कर रहे हैं.

गीतांजलि जेवेल्स के एक सेल्स एक्जीक्यूटिव ने कहा, “हम 10 हजार से 50 हजार रुपये तक के सोने के सामान खरीदने पर 20 फीसदी और 50 हजार रुपये से अधिक मूल्य की खरीदारी पर 25 फीसदी छूट दे रहे हैं.”

मुंबई के भी आभूषण विक्रेताओं ने अक्षय तृतीया के अवसर पर अधिक बिक्री रहने की बात कही.

मुंबई ज्वेलर्स फेडरेशन के अध्यक्ष राकेश शेट्टी ने कहा, “शुद्ध सोने की ईंटें प्रति 10 ग्राम 27,999 रुपये की दर से जबकि 22 कैरेट के सोने के आभूषण 26,500 रुपये की दर से बिक रहे हैं.”

शेट्टी ने कहा कि अधिकतर लोग अंगूठी, ईयर रिंग, चेन जैसे छोटे आभूषण खरीद रहे हैं, जबकि कुछ अन्य ग्राहक चूड़ियां, भारी चेन और कुछ थोड़े ग्राहक सोने की ईंटें भी खरीद रहे हैं.

कोलकाता में पीसी चंद्रा समूह के विपणन उपाध्यक्ष अनिल जैन ने कहा, “गत एक सप्ताह से कीमत तकरीबन एक ही स्तर पर स्थिर है और लोग हल्के गहने अधिक खरीद रहे हैं.”

वॉयला डॉट कॉम के निदेशक और संस्थापक विश्वास श्रंगी ने कहा, “ऑनलाइन आभूषण पोर्टलों के लिए अक्षय तृतीया बेहतरीन रहा. हमें उम्मीद है कि इस दिन सभी ऑनलाइन ज्वेलर काफी अच्छी बिक्री दर्ज करेंगे.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *