नया राज्यपाल 10 जुलाई तक

नई दिल्ली | संवाददाता: छत्तीसगढ़ के नये राज्यपाल की घोषणा संसद सत्र के पहले संभावित है. इस बात की जानकारी दिल्ली स्थित सूत्रों ने समाचारों के हवाले से दी है. सूत्रों ने इस बात की ओर भी इशारा किया है कि भाजपा के वरिष्ठ नेताओं को नये राज्यपालों के चयन के समय तरजीह दिया जायेगा.

गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ के राज्यपाल, शेखर दत्त का इस्तीफा राष्ट्रपति ने सोमवार को स्वीकार कर लिया था. उसी के बाद से छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में कयासों का दौर जारी है कि छत्तीसगढ़ के राज्यपाल के पद के लिये मोदी सरकार किसे चुनती है. जाहिर है कि इसमें राज्य सरकार के पसंद का भी केन्द्रीय नेतृत्व ख्याल रखेगा.


दिल्ली स्थित सूत्रों का कहना है कि पार्टी के द्वारा एक सूची बनाई जा रही है जिसके बाद नये राज्यपालों की नियुक्ति की प्रक्रिया शुरु हो जायेगी. सूत्रों का कहना है कि कम से कम 10 राज्यपालों के बदले जाने की संभावना है. इस बीच गोवा तथा हरियाणा के राज्यपालों ने केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह से मुलाकात की है.

बताया जा रहा है कि पश्चिम बंगाल के राज्यपाल एमके नारायणन ने इस्तीफा देने के लिये कुछ समय मांगा है वहीं नागालैंड के राज्यपाल अश्वनि कुमार ने कहा है कि जब भी उनसे औपचारिक तौर पर इस्तीफा मांगा जायेगा वह त्यागपत्र दे देंगे.

उल्लेखनीय है कि भाजपा के वरिष्ठ नेता लालजी टंडन जिनका नाम भावी राज्यपाल के रूप में लिया जा रहा है मंगलवार को गृह मंत्री राजनाथ सिंह के साथ मुलाकात की है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!