छत्तीसगढ़: बस्तर संभाग में हाई अलर्ट

रायपुर | एजेंसी: छत्तीसगढ़ में स्वतंत्रता दिवस पर नक्सली किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने की फिराक में हैं. खुफिया ब्यूरो से इस आशय की रिपोर्ट जारी होते ही पुलिस महकमा हरकत में आ गया है. पूरे बस्तर संभाग में हाई अलर्ट जारी किया गया है. वहीं डीआरजी व एसटीएफ के जवान सीआरपीएफ के साथ मिलकर लगातार सीमाओं पर लगातार चौकसी कर रहे हैं.

बस्तर आईजी एसआरपी कल्लूरी के मुताबिक, नक्सलियों के द्वारा हमले की साजिश हर राष्ट्रीय पर्व के दौरान की जाती है, लेकिन सुरक्षा बल उनके मंसूबों को कामयाब नहीं होने देगा. रेंज में एहतियात बरतने के निर्देश दिए गए हैं.

सूत्रों के अनुसार, सुकमा जिले के मोरपल्ली व बस्तर के तुलसी डोंगरी इलाके में नक्सलियों के बड़े नेताओं द्वारा बैठक लिए जाने की सूचनाएं मिली हैं. वहीं नक्सलियों के कूट संदेश भी खुफिया एजेंसियों ने ट्रेस किए हैं जिसमें स्वतंत्रता दिवस के पहले किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने के षड्यंत्र का खुलासा हुआ है.

खुफिया एजेंसियों द्वारा पुलिस को जारी रिपोर्ट में कहा गया है कि नक्सली सुरक्षा कैम्पों या थानों में सुनियोजित हमलों को अंजाम दे सकते हैं. वहीं अप्रत्याशित रूप से मैदानी क्षेत्र में हमला भी कर सकते हैं. आईजी बस्तर ने सभी जिलों के एसपी को एहतियात बरतने के निर्देश दिए हैं.

आपात स्थिति का सामना करने के लिए जवानों को सजग रहने को कहा गया है. वहीं शहर सीमा पर भी गश्त बढ़ा दी गई है. प्रत्येक वाहनों की सघन चेकिंग की जा रही है. पर्व के अवसर पर आने वाले वीआईपी की सुरक्षा के लिए भी एक्सरसाइज जारी है. रक्षित केंद्र से रिजर्व बलों को भी सुरक्षा व्यवस्था में तैनात किया गया है. राष्ट्रीय पर्व पर बड़ी वारदात के अंदेशे से सुरक्षा चाक चौबंद कर दी गई हैं.


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *