छत्तीसगढ़: बढ़ा अमरूद का उत्पादन

छत्तीसगढ़ में पिछले पांच साल में अमरूद के रकबे और उत्पादन में तेजी से वृद्धि हुई है. वर्ष 2010-11 में एक लाख दो हजार 820 मीटरिक टन अमरूद का उत्पादन हुआ था, जबकि वर्ष 2014-15 में एक लाख 71 हजार 881 मीटरिक टन अमरूद का उत्पादन किया गया.

वर्ष 2010-11 से वर्ष 2014-15 तक की अवधि में अमरूद के रकबे में 47 प्रतिशत तथा उत्पादन में 67 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है. वर्ष 2010-11 में जहां अमरूद का रकबा लगभग 13 हजार 353 हेक्टेयर था, वहीं वर्ष 2014-15 में यह बढ़कर 19 हजार 611 हेक्टेयर हो गया.


छत्तीसगढ़ के सभी 27 जिलों में अमरूद की खेती होती है. यहां के किसान अमरूद की इलाहाबादी सफेदा, लखनऊ-49 सफेद जाम, कोहीर सफेदा, रेड फ्लैश्ड, अर्का अमूल्या, चित्तीदार, अर्का मृदुला, पंत प्रभात, ललित और वीएनआर हाईब्रिड की प्रजाति की खेती करते हैं.

वर्ष 2014-15 में कोरबा जिले के किसानों ने सबसे अधिक 22 हजार 407 मीटरिक टन अमरूद का उत्पादन किया.

इसी वर्ष में रायपुर जिले में सात हजार 403 मीटरिक टन, बलौदाबाजार जिले में छह हजार 204 मीटरिक टन, महासमुंद जिले में 11 हजार 244 मीटरिक टन, धमतरी जिले में पांच हजार 684 मीटरिक टन, दुर्ग जिले में पांच हजार 715 मीटरिक टन, बालोद जिले में दो हजार 232 मीटरिक टन, बेमेतरा जिले में चार हजार 250 मीटरिक टन, राजनांदगांव जिले में तीन हजार 992 मीटरिक टन, कबीरधाम जिले में 12 हजार 375 मीटरिक टन अमरूद का उत्पादन हुआ.

बस्तर जिले में छह सौ मीटरिक टन, कोण्डागांव जिले में दो हजार 75 मीटरिक टन, कांकेर जिले में 13 हजार 844 मीटरिक टन, दंतेवाड़ा जिले में एक हजार 339 मीटरिक टन, सुकमा जिले में एक हजार 840 मीटरिक टन अमरूद का उत्पादन हुआ.

बिलासपुर जिले में 16 हजार 341 मीटरिक टन, मुंगेली जिले में चार हजार 564 मीटरिक टन, जांजगीर-चाम्पा जिले में 10 हजार 362 मीटरिक टन, रायगढ़ जिले में आठ हजार 861 मीटरिक टन अमरूद का उत्पादन हुआ.

जशपुर जिले में दो हजार 106 मीटरिक टन, सरगुजा जिले में आठ हजार 550 मीटरिक टन, सूरजपुर जिले में पांच हजार 37 मीटरिक टन, बलरामपुर जिले में तीन हजार 793 मीटरिक टन, कोरिया जिले में छह हजार 474 मीटरिक टन, नारायणपुर जिले में चार हजार 200 मीटरिक टन तथा बीजापुर जिले में 389 मीटरिक टन अमरूद का उत्पादन दर्ज हुआ.

वर्ष 2010-11 में रायपुर जिले में 10 हजार 483 मीटरिक टन, महासमुंद जिले में तीन हजार 485 मीटरिक टन, धमतरी जिले में पांच हजार 841 मीटरिक टन, दुर्ग जिले में सात हजार 984 मीटरिक टन, राजनांदगांव जिले में एक हजार 920 मीटरिक टन, कबीरधाम जिले में तीन हजार 25 मीटरिक टन अमरूद का उत्पादन हुआ था.

जगदलपुर जिले में 500 मीटरिक टन, कांकेर जिले में चार हजार 690 मीटरिक टन, दंतेवाड़ा में एक हजार 36 मीटरिक टन अमरूद का उत्पादन हुआ था.

बिलासपुर जिले में 19 हजार 133 मीटरिक टन, जांजगीर-चाम्पा जिले में नौ हजार 750 मीटरिक टन, कोरबा जिले में 15 हजार मीटरिक टन, रायगढ़ जिले में छह हजार 165 मीटरिक टन अमरूद का उत्पादन हुआ था.

जशपुर जिले में 853 मीटरिक टन, सरगुजा जिले में आठ हजार 500 मीटरिक टन, कोरिया जिले में तीन हजार 346 मीटरिक टन, नारायणपुर जिले में 828 मीटरिक टन तथा बीजापुर जिले में 280 मीटरिक टन अमरूद का उत्पादन हुआ था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!