मछली पालन से बढ़ी आय

जांजगीर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ के विकासखण्ड सक्ती के ग्राम जर्वे निवासी 42 वर्षीय भोज राम पटेल आज मत्स्य व्यवसायी के रूप में पहचाना जाता है. गौरतलब है कि भोज राम पटेल ने मात्र डेड़ एकड़ क्षेत्र में मत्स्य पालन कर एक वर्ष में 90 हजार रूपए कमाये हैं. भोज राम पटेल की आमदनी बढ़ने से वह अपने परिवार की जरूरत और बच्चो की शिक्षा के लिए बेहतर व्यवस्था कर रहा है. इस सफलता के कारण जीवन में खुशहाली आई है.

छत्तीसगढ़ के भोज राम पटेल ने बताया कि उसने राष्ट्रीय कृषि विकास योजना के तहत शतप्रतिशत अनुदान पर डेड़ एकड़ कृषि जमीन पर तालाब निर्माण करवाया. तालाब में मत्स्य बीज संवर्धन कार्य का कार्य कर 25 लाख स्पान का संचय किया. उस स्पान से 18 लाख स्टैण्डर्ड फ्राई को एक लाख 50 हजार में विक्रय किया. मत्स्य बीज संवर्धन में किए गए आकस्मिक और अन्य लागत को घटाकर 90 हजार रूपए की आमदनी हुईं.


उसने कहा कि परंपरागत धान की खेती से डेढ़ एकड़ कृषि भूमि से 20 से 25 हजार की अधिकतम आय होती थी. मत्स्य पालन से अब यह आय इतनी ही कृषि भूमि में तीन गुना बढ़ गई है. वह अपने शेष कृषि जमीन पर भी तालाब निर्माण करवाने के लिए मत्स्य विभाग में आवेदन किया है. भोज राम पटेल की इस सफलता से अन्य किसान भी प्रेरित होकर मछली पालन को व्यवसाय के रूप में अपना रहे है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!