जुवेनाइल डायबिटीज का मुफ्त इलाज

रायपुर | एजेंसी: छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने घोषणा की है कि छत्तीसगढ़ में अब डायबिटीज से पीड़ित चौदह साल तक के बच्चों का मुफ्त इलाज किया जाएगा.

उन्होंने बुधवार को राजधानी रायपुर में मुख्यमंत्री बाल हृदय सुरक्षा योजना और मुख्यमंत्री बाल श्रवण योजना पर आधारित वेबपोर्टलों नवजीवन एवं सचेत का शुभारंभ करते हुए यह ऐलान किया.


छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ. सिंह ने शहीद स्मारक भवन में आयोजित कार्यक्रम में इन दोनों योजनाओं से संबंधित सफलता की कहानियों की जनसम्पर्क विभाग द्वारा प्रकाशित पुस्तिका संवेदनाओं की तितलियां का विमोचन भी किया.

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा कि बाल हृदय सुरक्षा योजना मेरे सार्वजनिक जीवन की सबसे महत्वपूर्ण एवं संतुष्टिदायक योजना है. वर्ष 2008 में इसका शुभारंभ हुआ था. यह सबके मिले जुले प्रयासों का नतीजा है कि अब तक लगभग चार हजार बच्चों को आपरेशनों के जरिये नया जीवन मिला है.

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ. सिंह ने कहा कि जब तक छत्तीसगढ़ स्वस्थ नहीं होगा तब तक समृद्ध नहीं होगा. हम नक्सलवाद और आतंकवाद से तो लड़ लेंगे, विकास के कार्य भी होते रहेंगे लेकिन यदि पीढ़ियों के निर्माण में चूक हो जाती तो जीवन भर मां-बाप और बच्चे चिंतित रहते. डॉ. सिंह ने कहा कि पीढ़ियों का निर्माण शासन की प्राथमिकता है. उन्होंने सभी बच्चों की दीर्घायु और स्वस्थ जीवन की कामना की.

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा कि दिसंबर 2014 से छत्तीसगढ़ सहित देश के आठ राज्यों में बच्चों की पांच अलग-अलग बीमारियों के लिये एक ही वैक्सीन लगाई जाएगी. राज्य के सभी वर्ग के बच्चों को पेंटावेलेंट वैक्सीन का टीकाकरण किया जाएगा.

उन्होंने कहा कि पूरे भारत का कोई भी बच्चा हृदय और अन्य गंभीर बीमारियों से पीड़ित न रहे इसके लिए उन्होंने केंद्र सरकार से सभी राज्यों में छत्तीसगढ़ की ही तरह बाल हृदय एवं बाल श्रवण योजना लागू करने का आग्रह किया है. उन्होंने कहा कि मानवीय संवेदनाओं पर आधारित इस प्रकार की योजना दिल से ही बनाई जाती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!