छात्रावास में छात्रायें हुई बेहोश

कांकेर | अंकुर तिवारी: कांकेर के आदिवासी छात्रावास की 10 छात्र-छात्रायें सोमवार को बेहोश हो गये थे. छत्तीसगढ़ के आदिवासी बाहुल्य कांकेर जिलें में छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा संचालित प्रयास विद्यालय के छात्रावास में 10 छात्र-छात्राएं आज रहस्यमय ढंग से बेहोश हो थे, जिन्हें उपचार के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है. यह सिलसिला रविवार की रात तब शुरु हुआ जब एक छात्रा खाना खाने के बाद अचानक बेहोश हो गई. छात्रा को इलाज के लिए जिला अस्पताल लाया गया, उपचार के बाद उसे छुट्टी दे दी गई.

सोमवार की सुबह रोज की तरह छात्र-छात्राओं ने नास्ता किया और पढ़ाई करने के लिए स्कूल चलें गए. इसके बाद कई छात्र-छात्रायें बेहोश होकर गिरने लगी, एकाएक हुई इस घटना से छात्रावास में अफरा-तफरी मच गई. अध्यापकों ने छात्र-छात्राओं को अस्पताल पहुंचाने के लिए संजीवनी 108 एंबुलेंस को फोन किया. साथ ही घटना की जानकारी जिला प्रशासन को दी गई. एम्बुलेंस आते ही बेहोश हुए छात्र-छात्राओं को जिला चिकित्सालय ले जाकर भर्ती कराया गया.

छात्राओं ने बताया कि बीती रात एक छात्रा खाना खाने के बाद अचानक से बेहोश होकर गिर गई. आज सुबह नास्ता करने के बाद छात्र-छात्रायें बेहोश होकर गिरने लगी है. छात्राओं की तबीयत खराब हो रहीं हैं.

कलेक्टर शम्मी आबिदी ने कहा कि, सुबह कुछ बच्चों को बेहोशी आने की सूचना मिली. तत्काल उन्हें अस्पताल लाया गया और जांच की गई. बच्चों को फूड प्वाइजनिंग या पेट दर्द नहीं है. उन्हें कमजोरी और सिर में दर्द होने की शिकायत थी.

जिलाधीश ने कहा कि जो बच्चे बीमार पड़े है उन्होंने ठीक तरह से नास्ता नहीं किया था. उसकी वजह से कमजोरी हुई है. शनिवार को छात्रावास में विशेष स्वास्थ्य शिविर लगाकर सभी बच्चियों के सेहत की जांच की गई थी. छात्राओं में दहशत नहीं है, एक बच्चा बीमार पड़ता है तो बाकी बच्चों पर उसका प्रभाव पड़ता है.

जिला अस्पताल के सिविल सर्जन डॉ.आरसी ठाकुर ने कहा कि बच्चों ने शायद ठीक से नास्ता नहीं किया होगा इसके कारण उन्हे बेहोश होने जैसी शिकायत हुई. बच्चों की तबीयत खराब होने का कोई दूसरा कारण समझ नहीं आ रहा है.

उन्होंने कहा कि दो बच्चों को बुखार होने की शिकायत है, उनकी मलेरिया की जांच की गई है, किसी बच्चे को मलेरिया नहीं है. अभी सभी 10 बच्चों की तबीयत ठीक है, कोई परेशानी नहीं है.

बता दें कि बुधवार की रात प्रयास विद्यालय के छात्रावास में तीन अज्ञात युवकों के घुसने और छेड़खानी करने की घटना के बाद छात्राएं डरी सहमी हुई है. छात्र-छात्राओं ने एनएच 30 पर चक्काजाम कर दिया था. जिसके बाद छात्रावास के अधीक्षक-अधीक्षिका तथा चपरासी को हटा दिया गया. लेकिन कई बार की पूछताछ के कारण छात्रायें तनाव में थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *