पंचायत: बेटी गाय की रखवाली करो

रायपुर | समाचार डेस्क: छत्तीसगढ़ की एक पंचायत ने बेटियों को स्कूल जाने के बजाये गायों की रखवाली करने के लिये कहा है. ऐसा न करने पर छत्तीसगढ़ के महासमुंद जिले के तोंगापानी के पंचायत ने एक परिवार का हुक्का-पानी कथित तौर पर बंद कर दिया है. पीड़ित ने पुलिस के पास इसकी शिकायत दर्ज करवाई है.

छत्तीसगढ़ के महासमुंद जिले के तोंगापानी में रहने वाले उदयराम राउत अपनी बेटी को स्कूल भेजा करते थे. उल्लेखनीय है कि गांव की पंचायत ने उसे स्कूल से निकालकर गायों को रखवाली करने का निर्देश दिया था. जिस न मानने के कारण उदयराम राउत का हुक्का-पानी बंद कर दिया गया है.


पीड़ित ने पंचायत के शत्रुतापूर्ण रवैये को देखते हुये पुलिस से सुरक्षा की गुहार लगाई है.

कोमाखन पुलिस स्टेशन इंचार्ज एसएल सिदर ने मीडिया के हवाले से कहा कि “हमने शिकायत दर्ज कर ली है. इस मामले की जांच के बाद ज़रूरी कदम उठाये जायेंगे.”

घटना उस समय की है जब सारा देश तथा छत्तीसगढ़ ‘सेल्फी विद डॉटर’ में बिजी था. लोग अपनी बिटिया के साथ फोटो खिचवाकर सोशल मीडिया में पोस्ट कर रहें थे. उसी समय छत्तीसगढ़ के इस गांव की पंचायत ने ऐसा फैसला सुनाया.

गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ सरकार बेटियों को स्कूल भेजने के लिये विशेष तौर पर प्रोत्साहित कर रही है. आज का समाज चाहता है कि बेटिया पढ़ लिखकर अपने पैरों पर खड़ी होवें. इसके उलट फैसले लेने वाले पंचायत के फैसले से प्रगतिशील तबका सदमें में है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!