रेलवे DRM का कोरबा दौरा

कोरबा | अब्दुल असलम: कोरबा में बनने वाले 5 एफओबी और आरओबी को जिला प्रशासन ने पिछले 6 माह से अटका रखा है. कोरबा पहुंचे बिलासपुर रेल मंडल के डीआरएम देवराज पंडा ने मीडिया से चर्चा के दौरान इस बात की जानकारी दी. डीआरएम ने कोरबा से रायपुर के बीच इंटरसिटी एक्सप्रेस को संभवतः रेल बजट में मंजूरी मिल जाने की उम्मीद जताई है. डीआरएम देवराज पंडा कोरबा क्रिकेट स्पर्धा एक फाइनल मैच का उद्घाटन करने पहुंचे हुए थे.

बिलासपुर रेल मंडल के डीआरएम देवराज पंडा अपने स्पेशल सेलून से गुरूवार की सुबह लिंक एक्सप्रेस से कोरबा स्टेशन पहुंचे. सर्वप्रथम उनके सम्मान में रेलकर्मियों द्वारा आयोजित मार्चपास्ट की उन्होने सलामी ली, जिसमें रेलवे के पोर्टर से लेकर यांत्रिक, इलेक्ट्रिकल और निर्माण सहित अन्य विभागीय कर्मचारी और अधिकारी शामिल रहे. इसके बाद ओल्ड रेलवे कॉलोनी स्थित खेल मैदान में आयोजित क्रिकेट स्पर्धा के फाइनल मैच का उन्होंने उद्घाटन किया. डीआरएम ने बीते माह गणतंत्र दिवस के अवसर पर रेलखंड स्तरीय खेल प्रतियोगिताओं के आयोजन के दौरान हुए विभिन्न खेल स्पर्धाओं में विजेता रहे रेलकर्मियों व उनके परिजनों को पुरस्कृत पुरस्कार वितरण किया.

मीडि़या से चर्चा के दौरान डीआरएम ने बताया कि कोरबा में बनने वाले 5 फ्लाई ओवर ब्रिज ओर फूट ओवर ब्रिज का प्रस्ताव बनाकर जिला प्रशासन को अनुमति के लिए भेज दिया गया है लेकिन अब तक विभाग को प्रशासन की ओर से अनुमति प्रदान नहीं की गई है.

इसके अलावा डीआरएम देवराज पंडा ने कोरबा से रायपुर के बीच चलाई गई इंटरसिटी के पुनः परिचालन को रेल बजट में शामिल होने की बात पर जोर दिया. उन्होने बताया कि रेल्वे की ओर से मंत्रालय को इस संबंध में प्रस्ताव बनाकर भेजा गया है जिसकी पूरी उम्मीद है कि बजट में शामिल कर लिया जायेगा.

साथ ही एसईसीएल और रेल्वे के बीच चल रहे जमीन विवाद के मामले के बारे में जानकारी देते डीआरएम ने बताया कि दूसरी ओर स्टेशन में प्रवेश करने के लिए आ रही दिक्कतों को दूर कर लिया गया है. आने वाले एक-दो माह के भीतर रेल्वे स्टेशन के दूसरी ओर से भी यात्रियों के लिए प्रवेश द्वार बना देगी जिसके लिए सड़क का काम पूर्ण कर लिया गया है.

वहीं पिछले डेढ़ साल से बेकार पड़े पीट लाईन के लिए बताया गया कि आने वाले तीन-चार माह के भीतर पीट लाईन का काम भी पूर्ण कर उसे परिचालन में ला दिया जायेगा. डीआरएम देवराज ने बताया कि गेवरा रोड से पेड्रा रोड तक बिछाये जाने वाले रेल कोरिडोर से यात्रियों को भी सुविधा मिलेगी यहां पेड्रा रोड तक पैसेंजर ट्रेने चलाई जा सकती है फिलहाल मामला जमीन अधिग्रहण की प्रक्रिया में चल रहा है.

डीआरएम शाम साढ़े चार बजे लिंक एक्सप्रेस से वापस बिलासपुर चले गए. इस दौरान उनके साथ सीनियर नवीन सिंह, सीनियर डीईएम भावेश पांडेय, सीनियर डीईई श्री सेनापति, कालीचरण समपति व संरक्षा निरीक्षण विवेक शुक्ला सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे.


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *