कोरबा में कचरा फैलाओ दिवस!

कोरबा | अब्दुल असलम: एक कहावत है आगे पाठ पीछे सपाट यह कहावत कोरबा के प्रशासन पर सटीक तरीके से लागू होती है. गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ के औद्योगिक नगरी कोरबा में विश्व हाथ धुलाई दिवस के दिन हाथ तो साफ कराया गया परन्तु उसके एवज में चारों तरफ कचरा फैला दिया गया.

जी हां, जहां एक ओर स्वच्छता अभियान पूरे देश में चलाया जा रहा हैं वहीं दूसरी तरफ कोरबा में कचरा फैलाया जा रहा है. विश्व हाथ धुलाई दिवस के दिन कोरबा जिले के सीएसईबी फुटबाल मैदान मे आयोजित कार्यक्रम में 15 हजार बच्चों को हाथ जरुर धुलाया गया लेकिन कचरे की समुचित व्यवस्था नहीं होने के कारण पूरे मैदान में मिनरल वाटर के बोटल, पानी पाउच ,साबुन के रैपर और बिस्कुट के रैपर फैल गया.

जब इस सबंध में जिम्मेदार अधिकारी से गंदगी पर सवाल किया गया तो उन्होंने श्रमदान करने की बात जरुर कही. इसके बाद कार्यक्रम में शामिल होने पहुचे स्काऊट गाईड के सदस्यों ने कचरा बिनकर मैदान में फैली गंदगी की सफाई की. जाहिर है कि जब देशभर में स्वच्छता पर अभियान चलाया जा रहा है तब 15हजार बच्चों के कार्यक्रम में कचरे को फेंकने के लिये कचरादान की व्यवस्था अवश्य करनी थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *