आश्रम से भागे कोरवा की लाश मिली

अंबिकापुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ के सरगुजा के लुंड्रा ब्लॉक के कोरवा आश्रम से भागे छः वर्षीय महेश्वर की लाश मिली है. मिली जानकारी के अनुसार महेश्वर शुक्रवार रात अपने दो साथियों के साथ कोरवा आश्रम से भाग गया था परन्तु देर रात वह आश्रम में लौट आया था.

शनिवार तड़के वह फिर से आश्रम से भाग गया था. बाद में उसकी मुड़ापारा के लाश खेत में पड़ी मिली. आशंका जताई जा रही है कि बारिश के कारण खेतों में भरे पानी में वह डूब गया होगा.


वहीं, लुंड्रा ब्लॉक के डूमरडीह गांव के आश्रम से भागे कोरवा छात्र की लाश मिलने से हड़कंप मच गया है.

बताया जा रहा है कि शुक्रवार की रात छः वर्षीय महेश्वर दो अन्य कोरवा छात्र रामसुंदर तथा नइहर के साथ भाग गया था. तीनों चित्तपुर गांव के रहने वाले हैं. महेश्वर कक्षा पहली तथा बाकी के दोनों भाई कक्षा छठवीं के छात्र हैं.

तीन छात्रों के आश्रम से भागने की बात पर वहां की व्यवस्था पर सवाल उठता है. आखिर क्यों तीनों छात्रों ने भागने की ठानी. जिसके फलस्वरूप एक छात्र की मौत हो गई. जब महेश्वर शुक्रवार को लौटकर आया तो क्यों उस पर निगरानी नहीं रखी गई. यदि उसे दुबारा भागने न दिया गया होता तो उसकी जान बचाई जा सकती थी.

उल्लेखनीय है कि पहाड़ी कोरवाओँ को राष्ट्रपति का दत्तक पुत्र माना जाता है तथा यह एक संरक्षित जनजाति है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!