ईनामी नक्सली दंपत्ति गिरफ्तार

दंतेवाड़ा | संवाददाता: छत्तीसगढ़ पुलिस ने 16 लाख के ईनामी नक्सली दंपत्ति सहित छः को गिरफ्तार कर लिया है. इसे छत्तीसगढ़ पुलिस की बड़ी सफलता माना जा रहा है. इनमें नक्सल दंपति माड़वी जोगा उर्फ बामन व माड़वी गंगी पर 8-8 लाख रुपये का इनाम घोषित था. छत्तीसगढ़ पुलिस इनकी तलाश काफी समय से कर रही थी.

इनके अलावा छत्तीसगढ़ पुलिस ने नक्सली भीमा कुंजाम, जयराम राउत, मडकाम भीमा व पोदिया को भी गिरफ्तार किया गया है.


उल्लेखनीय है कि माड़वी जोगा उर्फ बामन वर्ष 2002 से नक्सली संगठन से जुड़ा था. साल 2004 में उसने कोरापुट ओडिशा में पुलिस लाइन पर हमला कर भारी मात्रा में हथियार लूट लिया था. यही नहीं उसने साल 2006 में बीजापुर के ग्राम कोरचोली में दो जवानों को घायल कर दिया था. वह 2007 में रानी बोदली छसबल कैंप में हमला करने की घटनाओं में भी शामिल था. रानी बोदली में 54 जवान शहीद हो गए थे.

वहीं उसकी पत्नी माड़वी गंगी वर्ष 2005 से नक्सली संगठन में शामिल हुई थी. भीमा कुंजाम वर्ष 2008 में नक्सली संगठन में शामिल हुआ.

वह 2011 में किरंदुल के थाना प्रभारी डीएन नागवंशी सहित अन्य चार जवानों की हत्या करने व 2015 में चोलनार कैंप में एंटी लैंडमाइंस का विस्फोट कर पांच जवानों की हत्या करने की घटना में शामिल था.

इसी तरह जयराम राउत किरंदुल के एस्सार प्लांट के समीप आगजनी कर फायरिंग करने की घटना में शामिल था. जबकि मड़काम भीमा 2013 से मलांगिर एरिया कमेटी सदस्य के रूप में संगठन में सक्रिय रहकर कार्य कर रहा था.

वहीं पोदिया उर्फ पीलू 2011 में डीएन नागवंशी सहित अन्य चार जवानों की हत्या करने की घटना व 2015 में चोलनार कैंप के एंटी लैंडमाइंस का विस्फोट कर पांच जवानों की हत्या करने की घटना में शामिल था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!