छत्तीसगढ़: ‘मातृ-पितृ पूजन दिवस’ मनाया गया

जगदलपुर | समाचार डेस्क: छत्तीसगढ़ के शहरों में वैलेंटाइन्स डे के दिन ‘मातृ-पितृ पूजन दिवस’ मनाया गया. इसी के तहत स्कूल शिक्षा एवं आदिम जाति कल्याण मंत्री केदार कश्यप ने जगदलपुर के ‘महात्मा गांधी मैदान’ में संपन्न हुए कार्यक्रम में भाग लिया. संभागीय जनसंपर्क कार्यालय जगदलपुर बस्तर द्वारा इसकी जानकारी दी गई है. जगदलपुर में ‘मातृ-पितृ पूजन दिवस’ के मुख्य अतिथि के आसंदी से बोलते हुए मंत्री केदार कश्यप ने बच्चों से कड़ी मेहनत कर अपने माता-पिता के सपनों को साकार करने की अपील की. उन्होंने इस अवसर पर देश के लिए अपना सर्वस्व न्यौछावर करने वाले शहीद भगत सिंह, सुखदेव और राजगुरु का उल्लेख करते हुए कहा कि इन युवा शहीदों ने भारत मां की आजादी के लिए अपने प्राणों का त्याग किया था. इन महान शहीदों के सपनों के भारत को बनाने के लिए सभी बच्चों और युवाओं को मिलकर प्रयास करने की आवश्यकता है.

स्कूल शिक्षा एवं आदिम जाति कल्याण विभाग द्वारा मातृ-पितृ पूजन दिवस और सामूहिक सूर्य नमस्कार कार्यक्रम के अवसर पर मुख्य अतिथि के तौर पर पहुंचे मंत्री केदार कश्यप ने मां सरस्वती की छायाचित्र के समक्ष दीप प्रज्जवलन कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया.


इस अवसर पर कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे जगदलपुर विधायक संतोष बाफना, विशिष्ट अतिथि के तौर पर मौजूद नगर पालिक निगम के महापौर जतीन जायसवाल, सभापति शेषनारायण तिवारी, नेता प्रतिपक्ष संतोष पांडेय सहित बड़ी संख्या में अभिभावकगण और छात्र-छात्राएं मौजूद थे.

मातृ-पितृ दिवस की शुभकामनाएं व्यक्त करते हुए मंत्री केदार कश्यप ने कहा कि माता-पिता की वजह से ही हर बच्चे का वजूद होता है. माता-पिता इस संसार में सबसे बड़े शुभचिंतक हैं और प्रथम गुरु हैं. बच्चों की बेहतरी के लिए माता-पिता हमेशा संघर्ष करते हैं. इसलिए माता-पिता का हमेशा आदर करना चाहिए और उनके सपनों को साकार करने के लिए कड़ी से कड़ी मेहनत करना चाहिए.

मंत्री केदार कश्यप ने बच्चों को बताया कि अपने बच्चों के उज्जवल भविष्य के लिए सदा संघर्ष और त्याग करने वाले माता-पिता का पूजन हर वर्ष 14 फरवरी को मनाने की इस महान परम्परा को छत्तीसगढ़ में सर्वप्रथम प्रारंभ किया गया. उन्होंने इस महान परम्परा को प्रारंभ करने की प्रेरणा देने के लिए मुख्यमंत्री रमन सिंह का आभार व्यक्त किया. उन्होंने परीक्षा में प्रथम आने वाले बच्चों को विशाखापटनम की यात्रा कराने का भी वादा किया. इस अवसर पर जगदलपुर विधायक संतोष बाफना और जगदलपुर महापौर जतीन जायसवाल ने भी संबोधित किया और सभी बच्चों और पालकों को बधाई दी.

इस अवसर पर जगदलपुर के विभिन्न स्कूलों से पहुंचे हजारों बच्चों ने अपने शारीरिक और बौद्धिक क्षमता के विकास के लिए सूर्य नमस्कार किया. बच्चों ने अतिथियों की मौजूदगी में अपने माता-पिता का पूजन किया और उनसे आशीर्वाद लिया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!