मंत्रीमंडल विस्तार पर हावी नान?

रायपुर | एजेंसी: छत्तीसगढ़ के मंत्रिमंडल विस्तार में नान का मुद्दा हावी रह सकता है. ऐसे कयास लगाये जा रहें हैं कि छत्तीसगढ़ सरकार अपने होने वाले विस्तार में कुछ नये चेहरों को शामिल करें. किन मंत्रियों की छुट्टी हो सकती है इसकों लेकर राजधानी ही नहीं पूरे राज्य के राजनीतिक हलकों में अटकले लगाई जा सकती है. छत्तीसगढ़ में मंत्रिमंडल का विस्तार इसी महीने होना लगभग तय हो गया है. सत्तारूढ़ भाजपा के कोर ग्रुप की बैठक में मंत्रिमंडल विस्तार और निगम-मंडल में अध्यक्षों की नियुक्ति को लेकर विचार-विमर्श किया गया. कोर ग्रुप से निकलकर आ रही खबरों की मानें तो मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह मंत्रिमंडल का विस्तार इस बार परफार्मेंस के आधार पर करेंगे. ऐसे में परफार्मेंस की पटरी से उतरे मंत्रियों की छुट्टी के भी संकेत मिल रहे हैं. इस फेरबदल में जहां एक-दो मंत्रियों की छुट्टी हो सकती है, वहीं तीन नए चेहरों को मंत्रिमंडल में स्थान भी दिया जाएगा.

मुख्यमंत्री रमन ने गुरुवार की देर शाम कोर ग्रुप की बैठक के बाद कुशाभाऊ ठाकरे परिसर स्थित पार्टी के प्रदेश कार्यालय में कहा कि मंत्रिमंडल का विस्तार अप्रैल के आखिरी सप्ताह में हो सकता है. इसके साथ ही निगम-मंडल के अध्यक्षों की भी घोषणा की जाएगी.

उन्होंने कहा कि मंत्रिमंडल में कुछ नए चेहरों को शामिल किया जा सकता है. जो वरिष्ठ नेता मंत्रिमंडल विस्तार में बच जाएंगे, उन्हें निगम मंडल में शामिल किया जाएगा.

भाजपा के उच्च पदस्थ सूत्रों के अनुसार, मंत्रिमंडल में क्षेत्र के हिसाब से मंत्री बनाने की तैयारी चल रही है. आदिवासी क्षेत्र बस्तर से बीजापुर के विधायक महेश गागड़ा का नाम सामने आ रहा है. वहीं सरगुजा से भैयालाल रजवाड़े के नाम की चर्चा है.

बताया जा रहा है कि विधायक देवजी पटेल, शिवरतन शर्मा, दयालदास बघेल और युद्धवीर सिंह जूदेव के नाम भी चर्चा में हैं. पार्टी के विधानसभा उपाध्यक्ष का नाम भी इसी के साथ तय करने की तैयारी में है. वहीं नान घोटाले के सामने आने के बाद विभागीय मंत्री पुन्नूलाल मोहिले का मंत्रिमंडल से बाहर जाना लगभग तय माना जा रहा है. इसके अलावा एक और कद्दावर मंत्री पर भी गाज गिर सकती है.

बताया जा रहा है कि मुख्यमंत्री डॉ. सिंह ने मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर राष्ट्रीय नेताओं से पहले दौर की चर्चा पूरी कर ली है. दिल्ली प्रवास के दौरान एक-एक मंत्री के परफार्मेंस की जानकारी वरिष्ठ नेताओं को दी गई है. इसके बाद से संकेत मिल रहे हैं कि एक-दो मंत्रियों की छुट्टी हो सकती है.


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *