यह घोषणापत्र नहीं ढकोसलापत्र है: मोदी

रायपुर । संवाददाता: पीएम मोदी ने कांग्रेस के चुनावी घोषणापत्र को ढकोसलापत्र करार दिया है. उन्होंने कहा कि हम चुनाव लड़ रहे हैं मजबूत सरकार बनाने के लिये और कांग्रेस तथा उनके साथी चुनाव लड़ रहे हैं मजबूर सरकार बनाने के लिये.

प्रधानमंत्री मोदी शनिवार को छत्तीसगढ़ के बालोद में चुनावी रैली को संबोधित कर रहे थे. उन्होंने चुनावी रैली में कहा कि कांग्रेस का कर्ज माफी का वादा झूठा था.


उन्होंने दावा किया कि कांग्रेस चुनाव लड़ रही है जीतने के लिये जबकि हम देश को जिताने के लिये लड़ रहे हैं.

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि कांग्रेस और उसके साथी चुनाव लड़ रहे हैं जनता की गाढ़ी कमाई को लूटने के लिये, हम चुनाव लड़ रहे हैं एक-एक पाई का सही इस्तेमाल करने के लिये. कांग्रेस और उसके साथी चुनाव लड़ रहे हैं आतंकियों को-अलगाववादियों को खुली छूट देने के लिये, हम चुनाव लड़ रहे हैं आतंकियों को, अलगाववादियों को उनके किये की सज़ा देने के लिये.

उन्होंने कहा कि कांग्रेस और उसके साथी चुनाव लड़ रहे हैं देश की सेना को कमजोर करने के लिये, हम चुनाव लड़ रहे हैं देश की सेना को आत्मनिर्भर बनाने के लिये. कांग्रेस और उसके साथी चुनाव लड़ रहे हैं मजबूर सरकार बनाने के लिए, हम चुनाव लड़ रहे हैं मज़बूत सरकार बनाने के लिये.

प्रधानमंत्री मोदी ने अपने सरकार के बारें में बोलते हुये कहा कि बीते पांच वर्षों में आपने देखा है कि मजबूत सरकार का मतलब क्या होता है. जब सरकार मज़बूत होती है तो, आतंकी हमलों के बाद देश चुप नहीं बैठता, घर में घुस कर मारता है.

उन्होंने दावा किया कि जब मजबूत सरकार होती है तो सर्जिकल स्ट्राइक और एयर स्ट्राइक होती है. जब मजबूत सरकार होती है, दुनिया भी हमारी बात सुनती है और जब मजबूर सरकार होती है तो दुनिया भी अपना रौब झाड़ती है. जब मज़बूत सरकार होती है तो, देशहित में बड़े फैसले लिये जाते हैं और जब मजबूर सरकार होती है तो कुछ लोगों के स्वार्थ सिद्ध करने के लिए फैसले लिये जाते हैं.

प्रधानमंत्री मोदी ने छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार पर पीएम किसान योजना को सही ढ़ंग से लागू न करने का आरोप लगाते हुये कहा कि आपके इस चौकीदार ने पीएम किसान योजना के तहत देश के करीब 12 करोड़ और छत्तीसगढ़ के करीब 35 लाख किसान परिवारों को सीधे बैंक खाते में 75 हजार करोड़ रुपए जमा कराने की योजना शुरू की है. लेकिन आपके बैंक खाते में सीधे पैसे आ रहे हैं, इसलिये कांग्रेस को अब इससे भी दिक्कत है. इसमें भी कांग्रेस सरकार आधे-अधूरे मन से काम कर रही है.

उन्होंने कहा कि यहां की सरकार ने अभी तक आधी-अधूरी सूची किसानों की दी है, जिसके कारण बहुत ही कम परिवारों को पहली किश्त अभी तक मिल पाई है. होना तो ये चाहिये था कि यहां की सरकार आदिवासियों को केंद्र सरकार की योजनाओं से फायदा पहुंचाती, उनको बल देती.

मोदी ने कहा कि रमन सिंह ने जो काम शुरु किया था उसको विस्तार देती. लेकिन यहां की सरकार ने तो आते ही ट्रांसफर-पोस्टिंग उद्योग शुरू कर दिया है, भाजपा कार्यकर्ताओं पर हमले हो रहे हैं. छत्तीसगढ़ में डेढ़ दशक से भूखी कांग्रेस सत्ता में आई है. आप सभी लोग संभलकर रहियेगा, सतर्क रहियेगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!