छत्तीसगढ़ को राष्ट्रीय साक्षरता पुरस्कार

रायपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ के तीन ग्राम पंचायतों को राष्ट्रपति राष्ट्रीय साक्षरता पुरस्कार से सम्मानित करेंगे. इनमें राजनांदगांव जिले की एक ग्राम पंचायत लिटिया और कोरिया जिले की दो ग्राम पंचायतें बंजारी डांड और देवगढ़ शामिल हैं.

राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी इस महीने की आठ तारीख को अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस के अवसर पर नई दिल्ली के विज्ञान भवन में आयोजित समारोह में यह पुरस्कार प्रदान करेंगे.

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने राज्य के राजनांदगांव जिले सहित प्रदेश की तीन ग्राम पंचायतों का चयन राष्ट्रीय साक्षरता पुरस्कार के लिए होने पर वहां की जनता को बधाई और शुभकामनाएं दी है.

उल्लेखनीय है कि इस वर्ष के साक्षर भारत कार्यक्रम के तहत राष्ट्रीय साक्षरता पुरस्कार के लिए चयनित सम्पूर्ण राजनांदगांव जिला और इस जिले की ग्राम पंचायत लिटिया तथा जिला कोरिया की ग्राम पंचायत बंजारी डांड, विकासखंड-खड़गंवा और ग्राम पंचायत देवगढ़ , विकासखंड-भरतपुर में साक्षरता अभियान को उत्साहजनक सफलता मिली है.

राजनांदगांव जिले को यह राष्ट्रीय पुरस्कार इस वर्ष के विधानसभा और लोकसभा के आम चुनावों में मतदाताओं को उनके मताधिकार के इस्तेमाल के लिए प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से चलाए गए ‘प्रतिज्ञा’ कार्यक्रम के लिए दिया जा रहा है.

उल्लेखनीय है कि इस जिले में साक्षरता अभियान से जुड़े लोक शिक्षा केन्द्रों के प्रेरकों और नवसाक्षरों ने गांव-गांव जाकर जनता को मतदान के लोकतांत्रिक अधिकार की जानकारी दी. इसके लिए जिला प्रशासन और जिला पंचायत ने राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन ‘विहान’ के तहत महिला एवं बाल विकास, स्वास्थ्य विभाग सहित साक्षर भारत कार्यक्रम और विभिन्न विभागों के समन्वय से जागरूकता अभियान चलाया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *