107 जवानों का हत्यारा गिरफ्तार

रायपुर | एजेंसी: छत्तीसगढ़ में करीब 107 जवानों की हत्या में कथित रूप से शामिल नक्सली सुक्रम उर्फ ओयामी चैतू को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. गिरफ्तार नक्सली अप्रैल 2010 में चिंतागुफा थाने के ताड़मेटला में 76 सीआरपीरफ जवानों की हत्या के मामले में भी शामिल था. इस पर पुलिस ने आठ लाख रुपये का इनाम रखा है.

छत्तीसगढ़ के बस्तर के पुलिस महानिरीक्षक एसआरपी कल्लूरी तथा दंतेवाड़ा के पुलिस अधीक्षक कमलनारायण कश्यप के अनुसार, नक्सली सुखराम उर्फ ओयामी चैतू माओवादी दक्षिण रीजनल कमेटी में सक्रिय बटालियन की कम्पनी दो की प्लाटून क्रमांक 3 का सेक्शन कमांडर था.


ताड़मेटला में नक्सलियों द्वारा देश की सबसे बड़ी वारदात जिसमें 76 सीआरपीएफ के जवानों की नक्सलियों ने घेरकर हत्या की थी. उस मामले में भी सक्रिय रूप से शामिल था. इसके आलावा सितंबर 2009 में सिंगन मड़गू में 6 कोबरा जवान, वर्ष 2006 में किरंदुल एनएमडीसी में सीआरपीएफ के 8 जवानों की हत्या तथा बारूद लूटने की घटना, 2010 में नकुलनार में कांग्रेसी नेता अवधेश गौतम के घर पर हमला और उनके रिश्तेदारों की हत्या, वर्ष 2006 में सलवा जुडूम का प्रतिरोध करते हुए गंगालूर राहत शिविर 8 ग्रामीणों की हत्या, वर्ष 2009 में 3 कोय कमांडो तथा 2007 में 4 एसपीओ की हत्या में भी सक्रिय भूमिका रही है.

इस तरह 107 हत्या का आरोपी पुलिस के नक्सल विरोधी अभियान में पकड़ा गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!