मेनन का अपहरणकर्ता नक्सली गिरफ्तार

रायपुर | समाचार डेस्क: कलेक्टर मेनन का अपहरण करने वाला नक्सली गिरफ्तार हुआ. छत्तीसगढ़ पुलिस की एसआईबी की टीम ने गुरुवार को सुकमा में सक्रिय 8 लाख के इनामी नक्सली कमांडर भीमा बिड़मा उर्फ आकाश उर्फ इलियास को गिरफ्तार करने में सफलता पा ली है.

छत्तीसगढ़ के नक्लस ऑपरेशन के स्पेशल डीजी डीएम अवस्थी ने राजधानी रायपुर में पुलिस मुख्यालय में हुये संवाददाता सम्मेलन में भीमा बिड़मा को पेश किया.

उल्लेखनीय है कि 21 अप्रैल 2012 में सुकमा के तत्कालीन कलेक्टर अलेक्स पॉल मेनन का नक्सलियों ने अपहरण कर लिया था. उस अपहरण कांड में 14 नक्सली तथा 2 मिलिशिया सदस्य शामिल थे. उस टीम का नेतृत्व भीमा ही कर रहा था.

पुलिस की प्रेस कांफ्रेंस में बताया गया कि भीमा ने 2002 में एर्राबोर के आदिवासी आश्रम में 8वीं तक शिक्षा ली और उसके बाद पाला मदगु गाँव पोलंपल्ली के पास गांव में रहकर ही परीक्षा दी. 2004 दिसंबर में नक्सली विजय ने उसे नक्सल संगठन से जोड़ा. तोलनोई गांव में उसकी ट्रेनिंग 10 लड़कों के साथ हुई. हिङमा ने भीमा को ट्रेनिंग दिया था. उसके बाद कोंटा दलम में भीमा की पोस्टिंग हुई.

बताया जा रहा है कि भीमा नक्सलियों की प्रेस टीम का हिस्सा था तथा लकड़ी के सांचे से मोबाइल यूनिट चलकर छपाई करता था. उसे मार्च 2006 में डिवीजन सप्लाई टीम की जिम्मेदारी दी गई. अप्रैल 2008 तक भीमा ने इस जिम्मेदारी को संभाला. नवंम्बर 2008 में उसे केरलपाल के बड़े शेट्टी का कमांडर बनाया गया.

वह जून 2012 तक 7 लोगों की टीम का नेतृत्व करता रहा. बाद में इसने 60 लोगों का नेतृत्व किया. 2012 में से इसे डीवीसी बना दिया गया तथा फरवरी 2013 तक डीवीसी रहा. फिलहाल नक्सलियों की मेडिकल और सप्लाई टीम की जिम्मेदारी संभालता रहा है. भीमा सर्जरी करना भी जानता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *