सामूहिक बलि का कांग्रेस ने विरोध किया

रायपुर | समाचार डेस्क: कांग्रेस ने जशपुर राज घराने की अष्ठमी के दिन 200 बकरियों की बलि देने के लिये आलोचना की है. रायपुर कांग्रेस के अध्यक्ष विकास उपाध्याय ने रविवार को इसके खिलाफ शांति मार्च निकालने की बात कही है. उनका कहना है कि पशुओं की सामूहिक बलि देना प्रिवेंशन ऑफ क्रुआलिटी ऑफ एनिमल का खुला उल्लंघन है.

विकास उपाध्याय का कहना है कि कांग्रेस, भाजपा के राज्यसभा सदस्य रणवीर सिंह जूदेव तथा उनके भतीजे विदायक युद्धवीर सिंह के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवायेगी.


विकास उपाध्याय ने आरोप लगाया कि ” एक तरफ भाजपा बीफ पर बैन की बात करती है तथा त्यौहार पर मीट बैन की बात करती है दूसरी तरफ उसके नेता खुलेआम पशुओं की सामूहिक बलि देकर इलाके में अपने दबदबे को दिखाना चाहते है.”

इस बीच, पशुओं पर काम करने वाली संस्था ‘पेटा’ ने जशपुर जिले में 200 बकरियों के सामूहिक बलि की निंदा की है.

उल्लेखनीय है कि जशपुर राज परिवार को लोग नवरात्र के अष्ठमी के दिन बकरियों की सामूहिक बलि देते है. यह परंपरा लंबे समय से चली आ रही है.

जशपुर राज परिवार के रणवीर सिंह जूदेव तथा उनके भतीजे ने काली मंदिर में अष्ठमी के दिन 200 बकरियों की बलि दी थी.

भाजपा के राज्यसभा सदस्य रणवीर सिंह जूदेव का दावा है कि इस मामले में सर्वोच्य न्यायालय के निर्देशों का पालन किया गया है. उन्होंने कहा कि सर्वोच्य न्यायालय ने कहा है कि वह वर्षो पुराने परंपराओं को रोक नहीं सकता है. इस तरह से सर्वोच्य न्यायालय के निर्देशों का पालन किया गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!