छत्तीसगढ़: नाबालिक सेक्स की हैवानियत!

पखांजूर | समाचार डेस्क: छत्तीसगढ़ के बस्तर में एक नाबालिक की शारीरिक भूख ने उसे हैवान बना दिया. हैरत की बात है कि सहपाठी एक छात्र तथा दो छात्राओं ने उसी हैवान को मदद की. पखांजूर के कोयलीबाड़ा के पीवी-39 हाईस्कूल में ऐसा ही वायका प्रकाश में आया है. बताया जा रहा है कि आरोपी छात्र लगातार सात दिनों से पीड़ित छात्रा को अपने साथ शारीरिक संबंध बनाने के लिये दबाव डाला जा रहा था. 16 वर्षीय छात्रा द्वारा इंकार करने पर उसी के साथ पढ़ने वाले 16 वर्षीय छात्र ने जाल बिझाकर हत्या का प्रयास किया.

प्रयास क्या किया, दरअसल सेक्स से इंकार करने वाली नाबालिक लड़की को मरा समझकर उसे छोड़ दिया गया था अन्यथा वह हैवान बड़ा छात्र तो उसे मार ही डालना चाहता था. इस फिल्मी स्टाइल में हत्या की कोशिश में दो छात्राओं ने हैवान बने छात्र को सक्रिय रूप से सहयोग दिया.


घटना की मिली जानकारी के अनुसार पीवी-39 स्कूल के कक्षा दसवीं में पढ़ने वाले 16 वर्षीय छात्र ने अपने साथ पढ़ने वाली एक छात्रा के को शारीरिक संबंध बनाने का प्रस्ताव दिया. जिसे छात्रा ने ठुकरा दिया. इससे कुपित होकर छात्र सेक्स से इंकार करने वाली छात्रा की हत्या की कोशिश की हद तक चला गया.

यह स्कूल दो मंजिला है तथा उपर के मंजिल में क्लास लगा करती है. नीचे के मंजिल में प्राचार्य का कक्ष है.

इन दिनों स्कूल में परीक्षा चल रही है. आरोपी छात्र ने इसी का अवसर उठाकर पीड़ित छात्रा को जाल बिछाकर फंसाया. आरोपी छात्र ने अपने दो सहपाठी छात्राओं की भी मदद ली.

1 अगस्त को जब छात्रा पर्यावरण की परीक्षा देकर नीचे उतर रही थी उसी समय उसे दो छात्राओं ने कहा कि कल होने वाली परीक्षा का पेपर लीक हो गया है तथा प्राचार्य के कक्ष में रखा है. पीड़ित छात्रा बहकावे में आ गई. दूसरी तरफ आरोपी छात्र ने पहले से ही प्राचार्य के कक्ष का ताला तोड़कर उसमें घटना को अंजाम देने का प्रबंध कर लिया था.

जब पीड़ित छात्रा प्राचार्य के कक्ष में घुसी तो आरोपी ने बाथरूम में अपने टाई से उसका गला दबा दिया. जिससे छात्रा बेहोश गई. आरोपी छात्र ने उसे मरा समझकर वहीं छोड़ दिया. जब बाद में छात्रा को होश आया तो उसने चिल्लाकर दरवाजा खुलवाया. वहां पर तो छात्रा ने हत्या के प्रयास की बात छुपाई तथा कहा कि वह बाथरूम में बेहोश होकर गिर गई थी परन्तु घर आकर उसने अपने परिजनों को इसकी शिकायत कर दी.

परिजनों ने बुधवार को इसी शिकायत स्कूल प्रबंधन तथा पुलिस से की. पुलिस ने दोनों आरोपी छात्रों के खिलाफ धारा 307, 342, 354 तथा 34 के तहत मामला दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस इस मामले में सहयोग करने वाली दोनों छात्राओं की भूमिका की भी जांच कर रही है.

एक नाबालिक की यौन पिपासा उसे किस हद तक हैवान बना देती है यह इस घटना से समझ में आता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!