छत्तीसगढ़ की सरपंच को पीएम ने सराहा

रायपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ की महिला सरपंच शारदा सिंह के भाषण से प्रधानमंत्री मोदी प्रभावित हुये. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पंचायत राज दिवस के राष्ट्रीय समारोह में आज नई दिल्ली के विज्ञान भवन में आयोजित समारोह में छत्तीसगढ़ दुर्ग जिले की सरपंच श्रीमती शारदा सिंह ध्रुव, ग्राम पंचायत निकुम के भाषण की जमकर तारीफ की. समारोह में महिला सरपंच श्रीमती ध्रुव देश के विभिन्न राज्यों से आए पंचायत प्रतिनिधियों की प्रशंसा का केन्द्र बन गयी.

उल्लेखनीय है कि इस राष्ट्रीय समारोह में हजारों की संख्या में मौजूद पंचायत प्रतिनिधियों में से केवल छत्तीसगढ़ की महिला सरपंच श्रीमती धु्रव को ही मंच से प्रधानमंत्री के सामने भाषण देने का अवसर मिला. महिला सरपंच ने प्रधानमंत्री मोदी को उनकी ग्राम पंचायत निकुम और छत्तीसगढ़ में आने के लिए आमंत्रण भी दिया .

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अपने उदबोधन में छत्तीसगढ़ की महिला सरपंच के आत्मविश्वास और उनके द्वारा अपनी ग्राम पंचायत में किए गए कार्यो की जमकर प्रशंसा की . मोदी ने कहा कि यदि यदि महिला सरपंचों को कार्य करने का पूरा अवसर दिया जाएगा, तो वो भी श्रीमती शारदा सिंह की तरह पूरे आत्मविष्वास से कार्य कर सकेगी . उन्होंने यह भी कहा कि यह आत्मविष्वास का ही नतीजा है कि श्रीमती शारदा सिह धु्रव ने धारा प्रवाह भाषण दिया और कहा कि उन्हें अपनी ग्राम पंचायत में हुए और हो रहे विकास कार्यों की पूरी जानकारी है.

प्रधानमंत्री मोदी ने उनके भाषण को गंभीरता से सुना. जब श्रीमती ध्रुव ने बताया कि किस प्रकार ग्राम पंचायत क्षेत्र की महिलाओं ने शराब के खिलाफ अपने स्व-सहायता समूह के माध्यम से अभियान चलाया और उसमें सफलता प्राप्त की, तो प्रधानमंत्री सहित समारोह में उपस्थित सभी प्रतिनिधियों ने करतल ध्वनि से उनके इन प्रयासों को सराहा. केन्द्रीय पंचायत राज मंत्री वीरेन्द्र सिंह, छत्तीसगढ़ सरकार के पंचायत और ग्रामीण विकास मंत्री अजय चन्द्राकर और अपर मुख्य सचिव एम.के. राउत भी इस मौके पर मौजूद थे.

समारोह को संबोधित करते हुए सरपंच श्रीमती ध्रुव ने अपनी ग्राम पंचायत में हो रहे विकास कार्यों का कार्यो का ब्यौरा दिया. उन्होंने बताया कि उनके ग्राम पंचायत क्षेत्र में जनता की सुविधा के लिए सामुदायिक भवन, शाला भवन , सड़क मुक्तिधाम आदि का निर्माण किया गया है.

महिला सरपंच ने यह भी बताया कि उनकी ग्राम पंचायत के आंगनबाड़ी केन्द्रों का सुचारू संचालन किया जा रहा है. वहां स्थानीय महिला स्व-सहायता समूहों द्वारा आंगनबाड़ी केन्द्रों में रेडी टू ईट कार्यक्रम के तहत बच्चों को पोषण आहार नियमित रूप से दिया जा रहा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *