छत्तीसगढ़ पुलिस को सलाम

रायपुर | संवाददाता: राजनाथ सिंह ने कहा शांतिपूर्ण विकास के लिए सुरक्षा सबसे महत्वपूर्ण शर्त होती है. जनता को सुरक्षा देने का काम पुलिस करती है. छत्तीसगढ़ पुलिस अपने इस दायित्व का बहुत अच्छे से निर्वाह कर रही है. यही कारण है कि छत्तीसगढ़ विकास के रास्ते पर तेजी से आगे बढ़ रहा है. केन्द्रीय गृह मंत्री न शनिवार शाम नया रायपुर में 54 करोड़ 22 लाख रूपए की लागत से 16 हजार 500 वर्ग मीटर में निर्मित पुलिस मुख्यालय भवन का लोकार्पण करते हुए इस आशय के विचार व्यक्त किए.

लोकार्पण समारोह की अध्यक्षता मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने की. मुख्य अतिथि की आसंदी से समारोह को सम्बोधित करते हुए केन्द्रीय गृह मंत्री ने कहा कि आम तौर पर पुलिस और सुरक्षा बल का कार्य हमेशा चुनौतीपूर्ण होता है, लेकिन छत्तीसगढ़ पुलिस का रास्ता तो और ज्यादा कठिन है. माओवाद इस राज्य की बड़ी चुनौती है. पुलिस और सुरक्षा बल ने बड़े आत्म-विश्वास के साथ इस चुनौती को स्वीकार किया है. उन्होंने कहा, “मैं छत्तीसगढ़ पुलिस का अभिनंदन करना चाहता हूं.”


समारोह की अध्यक्षता करते हुए मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केन्द्र सरकार देश के विकास के लिए पूरी इमानदारी और पारदर्शिता के साथ काम कर रही है. विगत एक वर्ष में केन्द्र ने समाज के सभी वर्गो की बेहतरी के लिए कई महत्वपूर्ण योजनाओं की शुरूआत की है. सिर्फ एक साल की इस अल्प अवधि में देश की जनता में एक नया उत्साह और आत्म-विश्वास जागृत हुआ है. हिन्दुस्तान के क्षितिज पर एक नये सूर्य का उदय हुआ है.

केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने समारोह में आगे कहा कि हमारे पूर्वजों के त्याग और बलिदानों से हमें आजादी मिली है. इस आजादी की सुरक्षा की जिम्मेदारी सुरक्षा बलों पर है. मैं मानता हूं जब तक जनता में सुरक्षा के भाव पैदा नहीं होंगे तब तक आजादी की सुरक्षा नहीं हो सकती है. राजनाथ सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सरकार ने एक वर्ष में देश के गरीबों को आर्थिक आजादी दिलाने के लिए भी कई महत्वपूर्ण कार्य किए हैं.

केन्द्रीय गृह मंत्री कहा कि आज अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर देश का गौरव बढ़ा है. आर्थिक मोर्चे पर भी हमारी सरकार ने अनेक सफलताएं प्राप्त की है. अन्तर्राष्ट्रीय रेटिंग एजेंसियों की रिपोर्ट के अनुसार पिछले एक वर्ष में भारत की अर्थ व्यवस्था को सबसे तेजी से बढ़ने वाली अर्थ व्यवस्था बताया गया. केन्द्रीय गृह मंत्री ने कहा कि गरीबों के हित में सबसे बड़ा काम प्रधानमंत्री जन-धन योजना के तहत किया गया है. इस योजना में 99.7 फीसदी परिवारों के खाते बैंक खोले जा चुके हैं. यह गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड में दर्ज हो चुका है. उन्होंने कहा कि पिछले एक साल में केन्द्र सरकार ने सामाजिक और आर्थिक सुरक्षा के लिए अनेक कदम उठाए हैं.

केन्द्रीय गृह मंत्री ने कहा कि भारतीय सेना के जवानों का मनोबल बढ़ाने के लिए भी केन्द्र सरकार ने विगत एक वर्ष में उल्लेखनीय कार्य किए हैं. श्री सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में केन्द्र सरकार की विदेश नीति के जरिए अन्तर्राष्ट्रीय जगत पर भारत का गहरा प्रभाव हुआ है. देश का मान-सम्मान बढ़ा है. राजनाथ सिंह ने कहा कि भारत के मान-सम्मान को चोट पहुंचाने वालों को हम कभी माफ नहीं करेंगे. सेना, अर्द्ध-सैनिक और पुलिस बल के जवानों द्वारा ऐसे तत्वों को मुंहतोड़ जवाब दिया जाएगा.

राजनाथ सिंह द्वारा लोकार्पित पुलिस मुख्यालय का यह भवन लगभग 54 करोड़ 22 लाख रूपए की लागत से मंत्रालय के पास लगभग 16 हजार 500 वर्ग मीटर में बना है. यह भवन दो मंजिला है और आधुनिक ढंग से सर्वसुविधायुक्त बनाया गया है. पुलिस मुख्यालय भवन में सहायक पुलिस महानिरीक्षक स्तर से अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक स्तर तक के अधिकारियों के लिए ब्लाक-एक में 13 कमरे, ब्लाक-दो में आठ कमरे, ब्लाक-3 में नौ कमरे तथा ब्लाक चार में 13 कमरे यानी कुल 43 कमरे बने हैं. वर्तमान में पुलिस मुख्यालय में एक पुलिस महानिदेशक, पांच अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक, पांच पुलिस महानिरीक्षक, चार पुलिस उप महानिरीक्षक तथा 16 सहायक पुलिस महानिरीक्षक/पुलिस अधीक्षक स्तर के अधिकारियों के अलावा 700 राजपत्रित अधिकारी एवं अन्य संवर्ग के अधिकारी-कर्मचारी कार्यरत हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!