छत्तीसगढ़: गरीबों का भी इलाज होगा

रायपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ के मुक्यमंत्री रमन सिंह ने आश्वस्त किया है कि राज्य में किसी गरीब को इलाज के लिये तरसना नहीं पड़ेगा. उन्होंने इसके लिये छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा चलाये जा रहें योजनाओं की जानकारी दी. उन्होंने कहा प्रत्येक परिवार को सरकारी और प्राइवेट अस्पतालों में इलाज के लिए 30 हजार रूपए का स्मार्ट कार्ड स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत दिया जा रहा है. राज्य सरकार द्वारा गंभीर बीमारियों से पीड़ित मरीजों को इलाज के लिए आर्थिक सहायता देने मुख्यमंत्री स्वास्थ्य बीमा योजना, संजीवनी एक्सप्रेस, महतारी एक्सप्रेस और संजीवनी कोष जैसी अनेक योजनाएं संचालित की जा रही हैं. स्वस्थ छत्तीसगढ़ से समृद्ध छत्तीसगढ़ का निर्माण होगा.

मुख्यमंत्री ने शनिवार रायगढ़ के मिनी स्टेडियम में पूर्व सांसद स्वर्गीय लखीराम अग्रवाल की स्मृति में आयोजित विशाल स्वास्थ्य शिविर का शुभारंभ करते हुए हजारों की संख्या में मौजूद नागरिकों को सम्बोधित कर रहे थे.


मुख्यमंत्री ने कहा कि मैं स्वयं एक डॉक्टर हूं. इस नाते गरीब मरीजों और उनके परिवारों के दर्द को अच्छी तरह समझता हूं, जो पैसों की कमी के कारण अपना अथवा अपने परिजनों का वक्त पर इलाज नहीं करवा पाते. ऐसे मरीजों की मदद के लिए राज्य सरकार तत्पर है.

डॉ. सिंह ने शिविर में लगभग तीन हजार मरीजों को संजीवनी कोष, मुख्यमंत्री बाल हृदय सुरक्षा योजना आदि योजनओं के तहत निःशुल्क इलाज के लिए चिकित्सा सहायता स्वीकृति पत्रों का वितरण किया. विभिन्न गंभीर बीमारियों से पीड़ित इन मरीजों का निःशुल्क इलाज राज्य सरकार द्वारा सरकारी और प्रायवेट अस्पतालों में कराया जाएगा.

मुख्यमंत्री ने इस बात पर खुशी जतायी कि विशाल स्वास्थ्य शिविर के लिए रायगढ़ जिले के सभी विकासखंडों में चिकित्सकों द्वारा 29 हजार 800 लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण किया गया. सामान्य बीमारियों से पीड़ित लोगों का विकासखंड और जिला स्तर के अस्पतालों में इलाज कराया गया और गंभीर बीमारियों से पीड़ित मरीजों का इलाज विभिन्न योजनाओं के अंतर्गत आर्थिक सहायता प्रदान कर जिले के बाहर के शासकीय और निजी अस्पतालों में राज्य सरकार द्वारा कराया जाएगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!