छत्तीसगढ़ में रेसिंग का रोमांच

रायपुर | एजेंसी: छत्तीसगढ़ की राजधानी में पहली बार राष्ट्रीय स्तर के मोटरस्पोर्ट्स चालक रेसिंग का रोमांच पैदा करेंगे. कमल विहार में 21 और 22 फरवरी को देश भर से आए चालक अपना जलवा बिखेरेंगे. यहां फुल थ्रॉटल-2015 मोटर रेसिंग का आयोजन किया जा रहा है. मोटर स्पोर्ट्स क्लब ऑफ इंडिया और स्पीड राइडर्स एसोसिएशन की ओर से आयोजित इस रेसिंग टूर्नामेंट में महानगरों की तर्ज पर एक नया रोमांच नजर आएगा. रेसिंग के लिए कमल विहार में रेसिंग ट्रैक निर्मित किया जा रहा है. यहां बेंगलुरू, मुंबई, दिल्ली, नागपुर, श्रीनगर सहित देशभर के अलग-अलग हिस्सों से दो पहिया चालक और कार चालक अपनी किस्मत आजमाएंगे.

टूर्नामेंट के लिए अब तक 120 से अधिक चालक पंजीकरण करा चुके हैं. इसमें बाइक और कार रेसिंग दोनों वर्गो के प्रतिभागी शामिल हैं. 11 श्रेणियों में आयोजित इस रेसिंग में युवाओं के साथ महिलाएं और बुजुर्ग भी शामिल हो सकेंगे.

स्पीड राइडर्स एसोसिएशन की निदेशक सुरुचि मिश्रा ने बताया, “रेसिंग के लिए सुरक्षा का पूरा ध्यान रखा गया है. इसके लिए मोटर स्पोर्ट्स क्लब ऑफ इंडिया की टीम के साथ लोकल टीम भी काम करेगी. रेस ट्रैक के चारों ओर सुरक्षा जाली बिछाई गई है, ताकि कोई भी रेस ट्रैक पर प्रवेश न कर सके. इसके अलावा आयोजन स्थल पर चिकित्सकीय टीम भी तैनात रहेगी.”

उन्होंने बताया कि कोई भी प्रतिभागी रेस ट्रैक पर तभी प्रवेश कर सकेगा, जब वह सुरक्षा मापदंड पूरा करेगा. इसके अलावा रेसर्स की बाइक और कार की भी जांच होगी, जिसके बाद ही प्रतिभागियों को रेस ट्रैक पर प्रवेश दिया जाएगा.

कमल विहार की सड़कों को रेसिंग ट्रैक के रूप में विकसित करने का काम एसोसिएशन के विशेषज्ञ कर रहे हैं. इसके लिए बाहर से एक टीम आई है, जो रेस ट्रैक तैयार कर रही है. दुर्घटना की स्थिति में भी खिलाड़ियों की सुरक्षा के लिए अंतर्राष्ट्रीय मानकों को ध्यान में रखकर उपाय किए जा रहे हैं.

प्रतियोगिता में खास तौर पर पेशेवर चालकों को बुलाया गया है. मुंबई के रौनक सिंह और नागपुर के सतनाम सिंह जैसे राष्ट्रीय स्तर के चालकों के साथ-साथ दिल्ली, मुंबई, बेंगलुरू जैसे महानगरों से भी पेशेवर चालक इस टूर्नामेंट में हिस्सा लेने आ रहे हैं.


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *