छत्तीसगढ़: नया रायपुर तक रेल

रायपुर | एजेंसी: देश की आधुनिकतम तथा छत्तीसगढ़ की नई राजधानी नया रायपुर से पुराना रायपुर को रेल से जोड़ने की योजना 3 साल में पूरी होने की उम्मीद है.

बिलासपुर जोन के वरिष्ठ जनसंपर्क अधिकारी डॉ. आर. के. अग्रवाल का कहना है कि 20 किलोमीटर रेल पटरी बिछाने के लिए टेंडर जारी कर दिए गए हैं. रेलवे को जमीन नहीं मिलने से काम शुरू नहीं हो पाया था. 100 करोड़ की लागत से रेल पटरी बिछाई जाएगी. अंडर और ओवर ब्रिज बनाए जाएंगे. वहीं 20 किलोमीटर रेल पथ बिछाने वाले क्षेत्र में 5 स्टेशन भी बनाना इस नए प्रोजेक्ट में शामिल है. ज्ञात रहे कि अभी नई राजधानी में केवल सड़क मार्ग से ही पंहुचा जा सकता है.

नया रायपुर को पुराना रायपुर से रेल मार्ग से जोड़ने की पहल शुरू हो गई है. यदि सभी कुछ ठीक ठाक चला तो 3 साल के भीतर पुराने और नया रायपुर के बीच रेल चलनी शुरू हो जाएगी, वर्तमान में केवल सड़क मार्ग से ही नया रायपुर पहुंचा जा सकता है. मिली जाकारी के अनुसार मंदिर हसौद से केंद्री तक 20 किलोमीटर पटरी बिछाने की निविदा जारी कर दी गई है.

एनआरडीए ने जमीन देने में देरी कर दी, अन्यथा 2 साल पहले ही पटरी बिछाने के लिए संभावित स्थान पर 36 हजार से अधिक स्लीपर ठेकेदार रखवा चुका था.

जानकारी मिली है कि 3 साल के भीतर यानी 31 मार्च 2018 तक ठेकेदार को पटरी बिछाने का कार्यादेश दिया जा चुका है. अभी तक पटरी और 5 स्टेशन बनाने के लिए 105 हेक्टेयर भूमि रेलवे ने चाही थी पर राज्य सरकार 54 हेक्टेयर भूमि अधिग्रहित कर चुकी है.

इधर मंदिर हसौद से नया रायपुर के केंद्री के बीच 6 अंडर और ओवरब्रिज बनाने के लिए 38 करोड़ का खर्च प्रस्तावित है और राज्य सरकार ने 10 करोड़ रुपये रेलवे को इस मद में दे दिया है.

मंदिर हसौद से नया रायपुर के बीच नया रायपुर, उद्योगनगर सीबीसी स्टेशन, मेला मैदान और केंद्री में पांच स्टेशन बनाने का जिम्मा एनआरडीए को दिया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *