पत्रकारों को भरोसे में ले: रमन

रायपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह ने बस्तर के अधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि पत्रकारों को भरोसे में लेकर काम करें. रमन सिंह ने कहा, “मैंने राज्य के नक्सल हिंसा पीड़ित जिलों में कानून व्यवस्था से जुड़े पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वे पत्रकारों को भरोसे में लेकर काम करें और यह भी सुनिश्चित करें कि पत्रकारों को विकास कार्यों तथा जनसमस्याओं की रिपोर्टिंग में किसी भी प्रकार की दिक्कत न होने पाए. राज्य सरकार प्रेस की आजादी की रक्षा के लिए वचनबद्ध है.”

रमन सिंह बुधवार दोपहर रायपुर में विधानसभा में बस्तर संभाग के विभिन्न पत्रकार संगठनों के संयुक्त प्रतिनिधि मंडल से चर्चा कर रहे थे. उन्होंने प्रतिनिधि मंडल की समस्याओं को गंभीरता से सुना. मुख्यमंत्री ने प्रतिनिधि मंडल को बताया कि राज्य सरकार ने पत्रकारों की सुविधा के लिए एक उच्च स्तरीय समन्वय समिति का भी गठन किया है, जिसमें पत्रकारों के प्रतिनिधि भी शामिल है.

समिति की पहली बैठक हाल ही में यहां मंत्रालय स्तर पर आयोजित हो चुकी है. डॉ. रमन सिंह ने प्रतिनिधि मंडल से कहा कि देश की लोकतांत्रिक व्यवस्था में सरकार और जनता के बीच संवाद बनाए रखने में पत्रकारों की महत्वपूर्ण भूमिका होती है.

मुख्यमंत्री ने कहा, “आम जनता की भलाई के लिए सरकारी विकास योजनाओं की जानकारी जनता तक पत्रकारों के माध्यम से ही पहुंचती हैं और जन समस्याओं की जानकारी सरकार तक मीडिया के जरिये भी आती है. इसे ध्यान में रखकर राज्य सरकार ने अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि नक्सल प्रभावित बस्तर संभाग के सभी जिलों में ग्राम स्तर तक समाचार संकलन करने वाले पत्रकारों को निष्पक्ष रूप से काम करने की पूरी आजादी संबंधित जिलों के प्रशासन द्वारा सुनिश्चित की जाए.”

डॉ. रमन सिंह ने कहा कि मैंने इस संबंध में स्वयं बस्तर संभाग के संबंधित वरिष्ठ अधिकारियों को बुलाकर निर्देश दिए हैं. मुख्यमंत्री ने कहा, “नक्सल क्षेत्रों में पत्रकारों की पहचान की पुष्टि के लिए अधिकारी वहां के प्रेस क्लब जैसे स्थानीय पत्रकार संगठनों से भी जानकारी ले सकते हैं.”

प्रतिनिधि मंडल से मुलाकात के दौरान मुख्यमंत्री के अपर मुख्य सचिव एन. बैजेन्द्र कुमार, जनसम्पर्क विभाग के सचिव गणेश शंकर मिश्रा और संचालक जनसम्पर्क राजेश सुकुमार टोप्पो भी मौजूद थे. प्रतिनिधि मंडल में दक्षिण बस्तर पत्रकार संघ के अध्यक्ष बप्पी राय, उपाध्यक्ष अब्दुल हमीद सिद्धिकी, प्रेस क्लब जगदलपुर के अध्यक्ष रजत वाजपेयी, बस्तर संभागीय पत्रकार संघ के सचिव राजेश दास और छत्तीसगढ़ श्रमजीवी पत्रकार कल्याण संघ के संयुक्त सचिव हरजीत सिंह पप्पू सहित सर्वश्री विनोद सिंह, रितेश यादव, अभिषेक भदौरिया, मुकेश श्रीवास्तव, कामिल खान, श्रीमती पुष्पा रोकड़े और नितिन रोकड़े तथा अन्य अनेक पत्रकार शामिल थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *