छत्तीसगढ़: सड़क दुर्घटना में 4 मृत

रायपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ के रायपुर में सड़क दुर्घटना में 4 की मौत हो गई है. घटना गुरुवार शाम की है जब कार की ठोकर से एक ही परिवार के तीन बच्चों की मौके पर ही मौत हो गई तथा चौथे ने अस्पताल में दम तोड़ दिया.

मिली जानकारी के अनुसार मंदिर हसौद जाने वाली सड़क पर शाम के तकरीबन 6 बजे कार क्रमांक सीजी-07 डब्लूएल 1201 के चालक ने चार बच्चों को ठोकर मार दी. जिससे मौके पर ही तीन बच्चों की मौत हो गई. कार की ठोकर से 22 मोना, 10 वर्षीय कशिश तथा 6 वर्षीय विकास की मौके पर ही मौत हो गई. जबकि 20 वर्षीय नीता की अस्पताल में मौत हो गई.

बताया जा रहा है कि कार की ठोकर से चारों बच्चे पेड़ तथा कार के बीच फंस गये थे. उन्हें वहां पर उपस्थित गांववालों ने निकाला. गांववालों ने कार के चालक की पिटाई भी कर दी.

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने राजधानी रायपुर में छेरीखेड़ी ओवर ब्रिज के पास सड़क हादसे में एक ही परिवार के बच्चों की आकस्मिक मृत्यु पर गहरा दुःख व्यक्त किया है. उन्होंने कहा है- यह एक हृदय विदारक दुर्घटना थी, जिसमें जांगड़े परिवार के बच्चों की मृत्यु हो गई. मुझे इस हादसे से गहरा दुःख पहुंचा है और मेरी पूरी संवेदनाएं इस दुःख की घड़ी में जांगड़े परिवार के साथ है.

मुख्यमंत्री ने इस हादसे का उल्लेख करते हुए सभी वाहन चालकों से यातायात नियमों का गंभीरता से पालन करने की अपील की है. उन्होंने यातायात पुलिस को भी वाहनों की तेज रफ्तार पर नियंत्रण के लिए उचित कदम उठाने के निर्देश दिए हैं. मुख्यमंत्री ने कहा है कि प्रत्येक इंसान का जीवन अनमोल है. इसलिए वाहन चलाते समय हमें स्वयं के साथ-साथ दूसरों के जीवन की सुरक्षा का भी ध्यान रखना चाहिए.

उल्लेखनीय है कि छत्तीसगढ़ में साल 2015 में सड़क दुर्घनाओं में कुल 4082 जानें गई.

छत्तीसगढ़ में सड़क दुर्घटनाओं के आकड़ें-

– साल 2015 में छत्तीसगढ़ में सड़क दुर्घटना में 13,426 लोग तथा देश में 5,00,279 लोग घायल हुये.
– सड़क दुर्घनाओं में छत्तीसगढ़ की भागीदारी महज 2.9 फीसदी है.
– साल 2015 में कुल 14,446 सड़क दुर्घटनायें हुई जिसमें 13,426 घायल तथा 4,082 लोग मारे गये.
– साल 2013 में प्रति 10,000 गाड़ियों में से 40 दुर्घनाग्रस्त हुये है.
– साल 2015 में 3710 घातक, 1816 गंभीर, सामान्य चोट वाली 7217 तथा बिना चोट वाली 1703 सड़क दुर्घटनायें हुये.
– राष्ट्रीय राजमार्ग पर 2012 में 3609, 2013 में 3237, 2014 में 2986 तथा 2015 में 3585 दुर्घटनायें हुये.
– जिनमें 2012 में 956, 2013 में 1124, 2014 में 1118 तथा 2015 में 1201 जानें गई.
– राज्य राजमार्ग में 2012 में 3654, 2013 में 3804, 2014 में 3758 तथा 2015 में 3898 दुर्घटनायें हुई.
– जिनमें 2012 में 842, 2013 में 938, 2014 में 1180 तथा 2015 में 1139 जानें गई.
– सड़क दुर्घनाओं में साल 2015 में पैदल चलने वाले 151 लोग दुर्घटना की चपेट में आये, 117 घायल हुये तथा 36 लोग मारे गये.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *