छत्तीसगढ़: सरगुजा में डेंगू का डंक

अंबिकापुर | समाचार डेस्क: सरगुजा के अंबिकापुर में रहने वाले सरेश सोनवानी की मौत डेंगू के कारण बुधवार हो बिलासपुर के अपोलो अस्पताल में हो गई. अपोलो अस्ताल ने मृतक सुरेश सोनवानी के डेथ सर्टिफिकेट में मौत का कारण डेंगू फिवर विथ शॉक विथ एमओडीएस विथ सेप्सीस बताया है.

सुरेश सोनवानी को कुछ दिनों से बुखार आ रहा था. जिसके कारण उसे अंबिकापुर के जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया था. बुखार कम न होने के कारण उसके परिजनों ने उसे अंबिकापुर के ही मिशन अस्पताल ले जाया गया. जहां पर खून में प्लेटलेट्स की संख्या कम पाये जाने पर चिकित्सकों ने डेंगू की संभावना जताई थी.

डेंगू की संभावना जतलाने के बाद सुरेश सोनवानी को बिलासपुर के अपोलो अस्पताल में भर्ती कराया गया था. जहां पर जांच के बाद डेंगू की पुष्टि हुई. अपोलो में चिकित्सा चल रही थी इसी दरम्यान सुरेश सोनवानी की मौत हो गई.

सुरेश सोनवानी की छोटी सी टायर पंचर बनाने की दुकान थी. उनकी छह पुत्रियां तथा दो पुत्र हैं. इनमें से चार पुत्री और एक पुत्र की शादी हो चुकी है. दो पुत्री और एक पुत्र का विवाह नहीं हो सका है. मृतक सुरेश सोनवानी के दोनों पुत्र भी पिता के साथ ही दुकान में हाथ बंटाया करते थे, जबकि उनकी पुत्रियां भी परिवार के भरण-पोषण में मेहनत कर सहयोग किया करती थी.

सुरेश सोनवानी की मौत के बाद परिवार के सदस्य रो-रोकर बेरा हाल हैं. परिवार के समक्ष अब आजीविका का संकट भी खड़ा हो गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *