रायपुर की झुग्गी आबादी बढ़ गई 80 प्रतिशत

रायपुर | संवाददाता: देश में सबसे अधिक 18 प्रतिशत झुग्गी वाले छत्तीसगढ़ में सबसे अधिक झुग्गी आबादी राजधानी रायपुर में बढ़ी है. इसके बाद दूसरे नंबर पर भिलाई नगर है.

गौरतलब है कि झुग्गी बस्ती यानी स्लम के मामले में छत्तीसगढ़ पूरे देश में नंबर 1 है. भारत सरकार के नेशनल सर्वे सेंपल में यह बात सामने आई है. इस रिपोर्ट के अनुसार छत्तीसगढ़ में 18 प्रतिशत लोग झुग्गी में रहते हैं. यह आंकड़ा पूरे देश में सबसे अधिक है. महाराष्ट्र और मुंबई में है, वहां का आंकड़ा महज 3.7 प्रतिशत है. अगर प्रति एक लाख घरों की बात करें तो यहां महज एक हज़ार लोग झुग्गी में रहते हैं. लेकिन छत्तीसगढ़ में यह आंकड़ा एक लाख में 18 हज़ार का है. सर्वाधिक गरीब होने का दंश झेल रहे छत्तीसगढ़ के हिस्से सर्वाधिक झुग्गी होने की यह रिपोर्ट कुछ महीने पहले ही सार्वजनिक हुई है.


जिस मध्यप्रदेश से छत्तीसगढ़ अलग राज्य बना है, उस प्रदेश में झुग्गी घरों की संख्या केवल 9 प्रतिशत है. यानी छत्तीसगढ़ में झुग्गी घरों की संख्या मध्यप्रदेश से ठीक दुगनी है. आंकड़े बताते हैं कि देश के पांच राज्यों में ही देश की 51 फीसदी झुग्गी बस्ती है. इनमें छत्तीसगढ़ (18%), ओडिशा (17%), झारखंड (14%), तमिलनाडु (12%) और बिहार (11%) शामिल है.

पूरे देश की बात करें तो देश में झुग्गी में रहने वाले लोगों में 11.47 प्रतिशत आबादी आदिवासियों की है. इसके बाद 10.64 प्रतिशत अनुसूचित जाति के लोग हैं. झुग्गी में रहने वालों में 5.42 प्रतिशत अन्य पिछड़ा वर्ग है. वहीं अन्य जातियों के लोगों की संख्या 1.76 प्रतिशत है.

आंकड़े बताते हैं कि रायपुर में झुग्गीआबादी की संख्या 2001 में 2,26,151 थी, जो 2011 में बढ़ कर 4,06,571 हो गई. यानी एक दशक में रायपुर में झुग्गी आबादी में 79 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी दर्ज की गई है. जाहिर है, गांवों से शहरों की ओर होने वाला विस्थापन इसमें सबसे बड़ी भूमिका निभा रहा है. रोजगार की कमी, खेती की खराब हालत, शिक्षा और दूसरी बुनियादी सुविधाओं का अभाव लोगों को शहर की ओर खींच रहा है. लेकिन चिंता की बात ये है कि रायपुर में झुग्गी आबादी की दर यही रही तो अगले तीन साल बाद रायपुर में झुग्गी आबादी 7,30,892 तक पहुंच जायेगी.

भिलाई नगर निगम की बात करें तो 2001 में यहां झुग्गी आबादी 63,087 थी, जो एक दशक बाद 2,14,039 हो गई. यानी दस साल में 1,50,943 की वृद्धि हो गई. इसी तरह दुर्ग में झुग्गी आबादी 74,325 से बढ़ कर 1,08,541 हो गई. राजनांदगांव में 77,585 का आंकड़ा बढ़ कर 1,04,349 हो गया. कोरबा में 1,08,616 की संख्या बढ़ कर 1,88,244 तक जा पहुंची.

रायगढ़ में झुग्गी आबादी का आंकड़ा 40,975 से बढ़ कर 60,267 हो गया. लेकिन सबसे आश्चर्यचकित करने वाला आंकड़ा बिलासपुर का है, जहां झुग्गी आबादी 1,10,336 से बढ़ कर महज 1,28,794 पहुंची. यानी बिलासपुर में एक दशक में केवल 18,458 झुग्गी आबादी बढ़ी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!