छत्तीसगढ़: गांव में छेड़छाड़, बलवा

राजनांदगांव | संवाददाता: छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव के ग्रामीण इलाके में शुक्रवार की रात बलवा हो गया था. छेड़छाड़ की घटना से उत्तेजित गांव वालों ने पुलिस की 1 गाड़ी समेत 4 बाइक को आग के हवाले कर दिया. गांव वालों का आरोप है कि वहां उपस्थित पुलिसकर्मी सांस्कृतिक कार्यक्रम के दौरान गांव की लड़कियों से छेड़खानी कर रहे थे. बताया जा रहा है कि इस दौरान गांव वालों ने पुलिसकर्मियो पर हमला भी किया. जिसके बाद एसडीओपी के साथ मामले को संभालने पुलिस बल वहां भेजा गया.

मिली जानकारी के अनुसार शुक्रवार रात मुरमुंदा गांव में मड़ई के अवसर पर सांस्कृतित कार्यक्रम का आयोजन किया गया था. जिसमें ममता चंद्राकर एवं उऩकी पार्टी द्वारा प्रस्तुति दी जी रही थी. इस दौरान वहां पर उपस्थित पुलिस जवानों ने महिलाओं को छेड़ा. जिसका गांव वालों ने विरोध किया परन्तु पुलिस के जवानों पर इसका कोई असर नहीं पड़ा. जिससे ग्रामीण भड़क उठे.


कोतवाल अंजोरदास ने मीडिया के हवाले से कहा कि पुलिसकर्मियों द्वारा छेड़छाड़ की गई थी तब ग्रामीण आक्रोशित हुये थे. वहीं, पुलिस का कहना है कि कुछ ग्रामीण शराब पीये हुये थे जिन्होंने विवाद खड़ा किया.

सूत्रों का कहना है कि रात के 12 बजे के करीब सांस्कृतिक कार्यक्रम दे रही लड़कियों को शरारती तत्वों द्वारा परेशान कि जाने लगा. जिसकी सूचना पुलिस को दी गई. जब पुलिस ने हस्तक्षेप किया तो उनका गांव वालों के साथ विवाद हो गया. जबकि गांव वालों का कहना है कि पुलिस के जवानों ने छेड़खानी की थी. इस बीच डोंगरगढ़ पुलिस पेट्रोलिंग की पार्टी वहां पहुंची. भीड़ ने उसकी गाड़ी में आग लगा दी.

आरक्षक शकून साहू के सिर पर राड से वार किया गया. पुलिस पर हमले की सूचना मिलते ही डोंगरगढ़ थाने के प्रभारी के नेतृत्व में पुलिस की टीम बाइक से वहां पहुंची. इस दौरान पुलिसकर्मियों के व्यवहार से ग्रामीण इतने उत्तेजित हो गये थे कि उन्होंने कई पुलिस वालों पर हमलाकर दिया तथा उनकी मोटर साइकिलें जला दी.

बलवा की जानकारी मिलते ही एसडीओपी सहित बड़ी संख्या में पुलिस वहां पर पहुंची तब जाकर स्थिति नियंत्रण में आई. घटना के दूसरे दिन शनिवार को भई गांव में तनाव बना रहा. जिसके दोखते हुये बड़ी संख्या में पुलिस बल को तैनात कर दिया गया.

पुलिस अधीक्षक प्रशांत अग्रवाल का कहना है कि असमाजिक तत्व सांस्कृतिक कार्यक्रम दे रही लड़कियों के साथ छेड़खानी कर रहे थे. जिसकी सूचना पर पुलिस वहां पर पहुंची. असमाजिक तत्वों ने पुलिस पर पत्थर बरसाये जिससे जवान घायल हो गये. ग्रामीणों ने पुलिस की गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया. अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!