छत्तीसगढ़: 30 भृत्य, आवेदक 75 हजार

रायपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ में भृत्य के 30 पदों के लिये 75 हजार आवेदन आने कारण परीक्षा स्थगित करनी पड़ी. उल्लेखनीय है कि आर्थिक एवं सांख्यिकी संचनालय, छत्तीसगढ़ की ओर से 21 जुलाई को चपरासी के 30 पदों के लिये आवेदन मंगाया गया था. जिसकी परीक्षा 30 अगस्त को होनी थी परन्तु 75 हजार आवेदन आने के बाद इस परीक्षा को 19 अगस्त को स्थगित कर दिया गया.

संबंधित अधिकारियों का कहना है कि इतने ज्‍यादा आवेदन आयेंगे इसकी हमें उम्‍मीद नहीं थी. हमने इतनी संख्या में परीक्षा में बैठाने के लिए व्यवस्था भी नहीं की थी. ऐसे में उम्‍मीदवारों को रायपुर बुलाने पर बड़ा बवाल मच सकता था. इस वजह से परीक्षा स्थगित कर दी गई. फिलहाल तारीख की घोषणा नहीं की गई है.

सबसे हैरत की बात यह है कि सरकारी विज्ञापन में इस नौकरी के लिये शैक्षणिक योग्यता कक्षा 5वीं पास मांगी गई थी परन्तु आवेदकों में ग्रेजुएट से लेकर पोस्ट ग्रेजुएट तक के उम्मीदवार हैं. यूं तो जीवन में सफलता प्राप्त करने की इच्छा रखने वाले के लिए कभी भी कोई कार्य छोटा नहीं होता, लेकिन यह भी विडंबना है कि सुविधाहीन परिवार के पढ़े-लिखे युवा बेरोजगार घूम रहे हैं.

जाहिर है कि छत्तीसगढ़ में सरकारी नौकरी के प्रति बेरोजगारों में आज भी चाह है. इससे यह भी इंगित होता है कि छत्तीसगढ़ का देश में तेज दर से सकल घरेलू उत्पादन में बढ़ोतरी के दावों के बीच राज्य में बेरोजगारों की बड़ी फौज मौजूद है. जिन्हें नौकरी चाहिये भले ही वह कोई भी हो.


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *