गर्मी का दुश्मन बेल का शर्बत

गर्मी के दिनों में लोग राहत पाने अक्सर शरबत का सहारा लेते हैं. छत्तीसगढ़ में बेल के शर्बत का चलन है. जिसे पीने से न केवल शरीर को पौष्टिक आहार मिलता है बल्कि शरीर ठंडा भी होता है. आज के जमाने में जब लोग बाजार में मिलने वाले शर्बत तथा ठंडे पेय के आदि हो गये हैं आप अपने मेहमानों को शुद्ध देशी बेल का शर्बत दें. इसमें प्रोटीन, फॉस्फोरस, कार्बोहाइड्रेट, आयरन, कैल्शियम, फाइबर, विटामिन सी एवं बी पाया जाता है. आयुर्वेद में तो बेल के शर्बत को औषधि के सामन गुओं वाला माना गया है.

बेल शर्बत बनाने के लिये आवश्यक सामग्री:
बेल के फल- 2 नग,
शक्कर- 5 बड़े चम्मच,
भुना जीरा- 1 छोटा चम्मच,
काला नमक-1 छोटा चम्मच.

बेल का शर्बत बनाने का तरीका

सबसे पहले बेल को धो कर काट लें और एक बाउल में उसका गूदा निकाल लें. उसके बाद गूदे से लगभग 2 गुना पानी डालें और अच्छी तरह मसलें, जिससे पूरा गूदा पानी में घुल जाए. उसके बाद बेल के घोल को एक मोटे छेद वाली चलनी से छान कर फल के रेशे वगैरह निकाल दें.

अब छने हुए रस में चीनी डालें और उसे घोल लें. उसके बाद काला नमक और भुना जीरा मिलाएं और अच्छी तरह से चला दें. अब आपका बेल का शर्बत तैयार है. इसे सर्विंग गिलास में निकालें और आइस क्यूब डाल कर मेहमानों को पेश करें. वे आपकी तारीफ करते नहीं थकेंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *