छत्तीसगढ़ी साहित्य सम्मेलन 9 को

रायपुर | एजेंसी: छत्तीगसढ़ी साहित्य समिति, रायपुर की ओर से 9 मार्च को सत्रहवां छत्तीसगढ़ी साहित्य सम्मेलन का आयोजन सत्संग भवन के दूधाधारी मठ में किया जा रहा है

तीन सत्रों में होने वाले इस सम्मेलन का उद्घाटन राजेश्री महंत श्रीराम सुंदर दास महाराज करेंगे. प्रथम सत्र दोपहर 2 बजे से 4 बजे तक रखा गया है. इस सत्र की अध्यक्षता पूर्व सांसद एवं स्वतंत्रता संग्राम सेनानी केयर भूषण करेंगे. स्कूली शिक्षा में छत्तीसगढ़ी का अध्यापन विषय पर इस सत्र में संगोष्ठी का आयोजन किया गया है जिसमें उपस्थित वक्ताओं द्वारा मंतव्य रखा जाएगा. द्वितीय सत्र में शाम 4 बजे से 6 बजे तक उपस्थित कवियों द्वारा छत्तीसगढ़ी कविता पाठ किया जाएगा.


छत्तीसगढ़ी साहित्य सम्मेलन सत्र शाम 6 बजे शुरू होगा जिसके मुख्य अतिथि शिव कुमार पांडेय कुलपति पंडित रविशंकर विवि रायपुर होंगे तथा अध्यक्षता महंत रामसुंदर दास करेंगे. विशेष अतिथि के रूप में पद्मश्री महादेव पांडे, लक्ष्मण मस्तूरिया, डॉ सुरेंद्र दुबे उपस्थित रहेंगे.

इस सत्र में सुशील यदु की छत्तीसढ़ी कविता और गीत संग्रह हरियर आमा घन मंडरे स्वर्गीय केशव दुबे की कृति ‘छत्तीसगढ़ी के माटी’ तथा राजेंद्र पांडे की कृति गांव के विहान का विमोचन होगा.

इसके बाद राज्यस्तरीय साहित्यकार का सम्मान समारोह होगा, जिसमें हरि ठाकुर साहित्य सम्मान से जीवन यदु राही खैरागढ़ स्वर्गीय महावीर अग्रवाल साहित्य सम्मान व्यंग्यकार विनोद साव दुर्ग, खोमलाल बैस सम्मान, मदन चौहान रायपुर, नगरमाता बिन्नी बाई सोनकर सम्मान से डॉ. अनुसूया अग्रवाल-महासमुंद, स्वर्गीय राकेश सोनी सम्मान से जसगीत गायक दुकालू राम यादव तथा कुमारी पूर्वी चंद्राकर रायपुर, टिकेंद्र टिकरिहा सम्मान से मिथलेश साहू बारूका गरियाबंद, स्वर्गीय सुरूज कुंवर गोस्वामी सम्मान से बसंती वर्मा बिलासपुर तथा स्वर्गीय दावा प्रसाद पांडेय सम्मान से गायक स्वर्गीय शेख हुसैन की पत्नी को सम्मानित किया जाएगा.

छत्तीसगढ़ी साहित्य सम्मेलन के संयोजक सुशील यदु ने बताया कि छत्तीसगढ़ी साहित्य के सत्रहवें अधिवेशन में राज्यभर से करीब 300 रचना कार, कवि, लेखक, साहित्यकार शामिल होंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!