नरबली देने वाले को फांसी

रायगढ़ | संवाददाता: छत्तीसगढ़ के रायगढ़ जिले में नरबली देने वाले तांत्रिक को फांसी की सजा सुनाई गई है. इस तांत्रिक पर 11 साल के बच्चे की बली देने का आरोप था.

प्राप्त जानकारी के अनुसार रायगढ़ जिले के बरपाली गांव में 32 साल के तांत्रिक दिलीप राठिया ने गांव के ही एक 11 साल के बच्चे प्रवीण को बहला फुसला कर अपने घर बुला लिया. इसके बाद 6 फरवरी 2012 की आधी रात को प्रवीण का सिर काटकर पूजा स्थल में गाड़ दिया.


प्रवीण के परिजनों ने जब अगले दिन प्रवीण को तलाशना शुरु किया तो उसका पता नहीं चल पाया. 15 दिनों के बाद 20 फरवरी को सुहई गांव के जंगल में बच्चे की सिरकटी लाश मिली थी. शव के कपड़े के आधार पर प्रवीण के पिता सोमनाथ ने प्रवीण की पहचान की. इसके बाद इस मामले में तांत्रिक दिलीप राठिया को गिरफ्तार किया गया. साल भर तक चली सुनवाई के बाद अतिरिक्त जिला सत्र न्यायाधीश अशोक कुमार साहू ने इस मामले में तांत्रिक दिलीप राठिया को फांसी की सजा सुनाई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!