बच्चों को सुनाएं ईमानदारी की कहानियां

टोरंटो | एजेंसी: अगर आप चाहते हैं कि आपके बच्चे ईमानदार और सच्चे हों, तो उन्हें अच्छी कहानियां सुनाइए. एक अध्ययन में बताया गया है कि बच्चों को ऐसी कहानियां सुनानी चाहिए जिनमें किरदार में ईमानदारी और सकारात्मकता हो.

कनाडा की यूनिवर्सिटी ऑफ टोरंटो के कांग ली ने बताया, “अध्ययन दर्शाता है कि ईमानदारी जैसे नैतिक व्यवहारों को बढ़ावा देने के लिए बेईमानी के नकारात्मक परिणामों की अपेक्षा ईमानदारी के सकारात्मक परिणामों पर बल देना चाहिए.”


बच्चों में नैतिक और सांस्कृतिक मूल्यों के विकास के लिए लंबे समय से कहानियों का प्रयोग होता रहा है.

कहानियां वास्तव में कितनी प्रभावी हैं, इसका पता लगाने के लिए शोधकर्ताओं ने तीन से सात साल की आयुवर्ग के 268 बच्चों पर प्रयोग किया.

हर बच्चे ने एक खेल खेला जिसमें बच्चे को आवाज के आधार पर खिलौना पहचानना था इसके साथ ही स्पष्ट निर्देश देते समय उन्हें झांककर खिलौना देख लेने का प्रलोभन भी दिया गया.

उसके बाद शोधकर्ताओं ने बच्चों पर ‘कछुआ और खरगोश’, ‘द ब्वॉय हू क्राइड वूफ’, ‘पिनोचियो’ और ‘जॉर्ज वाशिंगटन और चेरी का पेड़’ कहानियों के प्रभाव का परीक्षण किया.

शोधकर्ताओं की उम्मीद के विपरीत, केवल एक छोटे वाशिंगटन की मनगढ़ंत कहानी ने बच्चों को प्रेरित किया.

भविष्य में अमरीका के पहले राष्ट्रपति बने वाशिंगटन की कहानी सुनने वाले बच्चों में सच बताने और अपराध कबूल करने की संभावना तीन गुना ज्यादा थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!