कोयला के रिकार्ड उत्पादन का दावा

नई दिल्ली: कोल इंडिया ने रिकार्ड कोयला खनन का दावा किया है. पिछले वर्ष की तुलना में कोयला उत्पांदन की वृद्धि दर 5.80 और कोयला आपूर्ति वृद्धि दर 8.01 प्रतिशत रही है.

कोल इंडिया लिमिटेड में चालू वित्तव वर्ष के पहले 10 महीनों में इससे पिछले वर्ष की इसी अवधि के मुकाबले 5.8 प्रतिशत अधिक कोयला उत्पालदन हुआ और कोयला आपूर्ति में 8 प्रतिशत की बढ़ोतरी दर्ज की गई. इस दौरान कोयला उत्पा‍दन 35 करोड़ 53 लाख 10 हजार टन हुआ, जो पिछले वर्ष की इसी अवधि में 33 करोड़ 58 लाख 90 हजार टन था. कोयले की आपूर्ति  35 करोड़ 10 लाख टन से बढ़कर 38 करोड़ टन हो गई.

कोल इंडिया लिमिटेड ने जनवरी, 2013 में 4 करोड़ 64 लाख 20 हजार टन कोयला उत्पादन किया, जो जनवरी, 2012 के 4 करोड़ 46 लाख टन से लगभग 4 प्रतिशत अधिक है. इस अवधि के दौरान देश की सबसे अधिक बिजली उत्पा0दन करने वाली राष्ट्रीनय ताप बिजली निगम को 107.5 मीट्रिक टन कोयले की आपूर्ति की गई, जो पिछले वर्ष की इसी अवधि की आपूर्ति 102.5 मीट्रिक टन से 16.4 प्रतिशत अधिक है.

जनवरी, 2013 में कोल इंडिया लिमिटेड ने कोयले से लदे 210 रेल रेक भेजे, जबकि जनवरी, 2012 में 185 रेक भेजे गए. कोल इंडिया लिमिटेड चालू वित्ते वर्ष के दौरान 47 करोड़ टन कोयला आपूर्ति (8.5 प्रतिशत वार्षिक वृद्धि सहित) के वार्षिक लक्ष्ये को पूरा करने के लिए बिल्कुलल तैयार है. इसमें बिजली क्षेत्र के लिए 34.70 करोड़ टन कोयले की आपूर्ति (11.2 प्रतिशत वृद्धि सहित) शामिल है. कोल इंडिया लिमिटेड के इतिहास में यह अब तक की सबसे अधिक वार्षिक वृद्धि होगी.

सिंगरेनी कोलरीज कंपनी लिमिटेड ने अप्रैल, 2012 से जनवरी, 2013 के दौरान 4 करोड 26 लाख 40 हजार टन कोयले का उत्पाबदन किया, जो पिछले वर्ष की इसी अवधि के 4 करोड़ 10 लाख 30 हजार टन से 3.9 प्रतिशत अधिक है.

नेवेली लिग्नाीइट कॉरपोरेशन ने अप्रैल, 2012 से जनवरी, 2013 के दौरान 2 करोड 9 लाख 20 हजार टन कोयले का उत्पाइदन किया, जो पिछले वर्ष की इसी अवधि के 1 करोड़ 97 लाख टन से 6.15 प्रतिशत अधिक है. जनवरी, 2013 में नेवेली लिग्नाेइट कॉरपोरेशन ने जनवरी, 2013 में 24 लाख टन लिग्ना्इट उत्पाैदन किया, जो जनवरी, 2012 के 22 लाख 20 हजार टन से लगभग 8.3 प्रतिशत अधिक है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *