कोच्चि वनडे में भारत की आसान जीत

कोच्चि | एजेंसी: भारत ने गुरुवार को खेले गए पहले एकदिवसीय मैच में मेहमान टीम को बड़ी ही आसानी से 6 विकेट से हराकर 1-0 की बढ़त बना ली. भारत ने अपने स्पिनरों के उम्दा प्रदर्शन के बूते पहले तो वेस्टइंडीज को 211 रनों पर समेट दिया और फिर 35.2 ओवरों में चार विकेट खोकर लक्ष्य हासिल कर लिया.

भारत के जीत के नायकों में तीन-तीन विकेट लेने वाले रवींद्र जडेजा और सुरेश रैना के अलावा रोहित शर्मा (72) और विराट कोहली (86) रहे. युवराज सिंह 16 और कप्तान महेंद्र सिंह धौनी 13 रनों पर नाबाद लौटे.


मैन ऑफ द मैच चुने गए कोहली ने अपनी इस यादगार पारी के दौरान एकदिवसीय मैचों में 5000 रन पूरा किया. वह सबसे तेजी से पांच हजार का आंकड़ा पार करने के मामले में वेस्टइंडीज के सर विवियन रिचर्ड्स की बराबरी कर चुके हैं.

कोहली ने 120वें मैच की 114वीं पारी में 5000 रनों का आंकड़ा छुआ जबकि रिचर्ड्स ने 126 मैचों की 114 पारियों में यह रिकार्ड अपने नाम किया था. कोहली ने 2008 (जून) में एकदिवसीय क्रिकेट में पर्दापण किया था और वह पांच साल पांच महीनों में ही इस मुकाम पर पहुंचने में सफल रहे.

समय के लिहाज से भारत के मौजूदा कप्तान महेंद्र सिंह धौनी ने पांच साल से भी कम समय (चार साल 357 दिन) में 5000 रन पूरे किए थे.

पारियों की बात की जाए तो रिचर्ड्स (114) और कोहली (114) के अलावा वेस्टइंडीज के ब्रायन लारा (118), वेस्टइंडीज के गार्डन ग्रीनीज (121), दक्षिण अफ्रीका के अब्राहम डिविलियर्स (124) और भारत के सौरव गांगुली (126) पारियों में 5000 रन पूरा किया.

कोहली की 84 गेंदों की शानदार पारी में नौ चौके और दो छक्के शामिल हैं जबकि बीते दिनों बेंगलुरू में आस्ट्रेलिया के खिलाफ 209 रनों आतिशी पारी खेलने वाले रोहित ने 81 गेंदों पर आठ चौके और एक छक्का लगाया.

रोहित और कोहली ने शिखर धवन (5) का विकेट 17 रनों के कुल योग पर गिरने के बाद स्कोर को 150 तक पहुंचाया. रैना (0) बल्ले के साथ कमाल नहीं कर सके.

इससे पहले, रैना और जडेजा ने वेस्टइंडीज को 48.5 ओवरों में 211 रनों पर समेट दिया. वेस्टइंडीज के आखिरी दो विकेट रविचंद्रन अश्विन ने चटकाए. टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी वेस्टइंडीज टीम को मैच की दूसरी ही गेंद पर चौंकाने वाला पहला झटका सलामी धुरंधर बल्लेबाज क्रिस गेल के रूप में लगा.

गेल को गेंदबाजी कर रहे भुवनेश्वर कुमार ने शून्य के कुल योग पर उन्हें रन आउट किया. तेज रन लेने के चक्कर में गेल के पैर की मांसपेशी में गंभीर खिंचाव भी आ गया.

इसके बाद जॉनसन चार्ल्स (42) और मार्लन सैमुएल्स (24) ने दूसरे विकेट के लिए 65 रनों की साझेदारी कर वेस्टइंडीज की पारी को काफी हद तक संभाल लिया. लेकिन चार्ल्स अपने अर्धशतक से आठ रन पहले रवींद्र जडेजा की गेंद पर उन्हीं के हाथों लपक लिए गए.

चार्ल्स ने 34 गेंदों की पारी में सात चौके और एक छक्का लगाया. इसके बाद रैना ने वेस्टइंडीज को सैमुएल्स, लेंडल सिमंस (29) और नरसिंह देवनारायण (4) के रूप में तीन लगातार विकेट झटके.

इस बीच हालांकि डारेन ब्रावो (59) ने सिमंस के साथ चौथे विकेट के लिए 65 रनों की साझेदारी कर अपनी टीम को संभालने की भरसक कोशिश की.

सातवें क्रम पर बल्लेबाजी करने उतरे ड्वेन ब्रावो (24)के साथ 31 रनों की साझेदारी करते हुए डारेन ब्रावो ने अपना अर्धशतक पूरा किया. हालांकि अर्धशतक पूरा करने के बाद डारेन ब्रावो भी ज्यादा देर नहीं टिक सके और 183 के कुल योग पर मोहम्मद समी का शिकार हुए.

डारेन ब्रावो ने अपनी 77 गेंदों की अर्धशतकीय पारी में चार चौके और दो छक्के लगाए. इसके बाद वेस्टइंडीज के आखिरी चार विकेट टीम के कुल योग में 28 रन और जोड़कर सात गेंद शेष रहते ही धराशायी हो गए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!