मंत्री निहालचंद के इस्तीफे की मांग

नई दिल्ली | समाचार डेस्क: मोदी सरकार के रेप के आरोपी मंत्री निहालचंद मेघवाल बुधवार को एक महिला रिपोर्टर पर भड़क गये. रिपोर्टर द्वारा सवाल किये जाने पर उन्होंने कहा कि क्या मंत्री मुझे आपने बनाया है? इससे पहले पीड़ित महिला ने मंगलवार को प्रेस कान्फ्रेस कर मंत्री निहालचंद मेघवाल पर आरोप लगाया था कि मंत्री ने उन्हें धमकी दी है तथा केस वापस लेने के लिये नौकरी का लालच दिया है.

गौरतलब है कि मोदी सरकार में रसायन तथा उर्वरक राज्य मंत्री निहालचंद मेघवाल पर एक महिला ने आरोप लगाया कि उसके साथ मंत्री ने कथित तौर पर रेप किया था. अब पीड़िता प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मिलना चाहती है उन्होंने कहा “मैं प्रधानमंत्री मोदी से मिलना चाहती हूं और उन्‍हें पूरी घटना विस्‍तार से बताना चाहती हूं, ताकि वह मेरे बयान की सत्‍यता जान सकें. मैं इस मामले में सीबीआई जांच चाहती हूं, ताकि पहले की तरह मामले पर कोई असर न डाला जा सके, जैसा कि 2011 में हुआ था.”

ज्ञात रहे कि पीड़िता ने आरोप लगाया था कि जब वह नाबालिक थी उस समय उसके पति समेत 18 लोगों ने उसका यौन शोषण किया था. जिसमें कथित तौर पर निहालचंद मेघवाल भी शामिल थे. पीड़िता ने कहा कि उसको नशीला पदार्थ खिलाकर उसके साथ जबरदस्ती की गई थी. पीड़िता ने यह भी कहा कि इसकी सीडी भी बनाई गई थी.

वहीं, निहालचंद मेघवाल ने एक अंग्रेजी अखबार से कहा है कि उनके खिलाफ राजनीतिक साजिश की जा रही है. मेघवाल ने कहा कि उनके पास छुपाने को कुछ भी नहीं है तथा हर कोई सच जानता है. दूसरी तरफ, कांग्रेस इस मुद्दे को लेकर मोदी सरकार पर हमले कर रही है. कांग्रेस के महिला मोर्चा ने बुधवार को इसके खिलाफ भाजपा मुख्यालय के सामने प्रदर्शन किया.

कांग्रेस के महिला मोर्चा की अध्यक्ष शोभा ओझा ने कहा कि अदालत इस मामले में आरोपी मंत्री निहालचंद मेघवाल को समन भेज चुकी है इसलिये प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को अपने मंत्री से इस्तीफा ले लेना चाहिये. शोभा ओझा ने कहा कि न तो अभी तक मोदी ने अपने मंत्री से इस्तीफा मांगा है और न ही आरोपी मंत्री ने इसके लिये पेशकश की है. समाचारों के हवाले से खबर है कि प्रधानमंत्री मोदी ने निहालचंद पर लगे आरोप की जांच का जिम्मा अपने एक कैबिनेट मंत्री को सौंपा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *