कांग्रेस ने आदिवासियों का शोषण किया: मोदी

भोपाल | एजेंसी: भारतीय जनता पार्टी के प्रधानमंत्री पद के प्रत्याशी नरेन्द्र मोदी ने कहा है कि आजादी के बाद कांग्रेस ने भोले-भाले आदिवासियों का भावनात्मक शोषण किया और उनके पिछड़ेपन में जीत की संभावनाएं टटोलकर उसे बनाए रखा.

मोदी बुधवार को मध्य प्रदेश के जनजातीय वर्ग बाहुल्य इलाके रतलाम और धार में जनसभाओं में कांग्रेस को जनजातीय वर्ग विरोधी पार्टी करार देते हुए कहा कि देश में पहली बार गैर कांग्रेसी सरकार का जब गठन हुआ तब अटलबिहारी वाजपेयी के नेतृत्व में आदिवासियों और वनवासियों की खोज-खबर ली गई, केन्द्र में आदिवासी कल्याण के लिए पृथक मंत्रालय बनाया गया और उन्हें परंपरागत वनभूमि पर अधिकार देने का अभियान आरंभ हुआ.

उन्होंने आगे कहा कि आज आदिवासियों को सशक्त बनाने, उनके जीवन में खुशहाली लाने की आवश्यकता है. इस मिशन का श्रेय भाजपा को मिलेगा और आने वाली सरकार देश में आदिवासियों, अनुसूचित जातियों, पिछड़े वर्गों के सशक्तीकरण के लिए ठोस उपाय करेगी.

उन्होंने कहा कि आज देश का किसान हताश है. देश में जय जवान-जय किसान का नारा बुलंद हुआ था लेकिन कांग्रेस ने मर किसान-मर जवान कि ख्याति अर्जित की है. युद्ध में जितनी मानव जीवन की त्रासदी नहीं हुई है उतनी जनहानि पाकिस्तान के सैनिकों द्वारा प्रायोजित आतंकवाद द्वारा की जा रही है. इसे रोकने के लिए कड़े उपायों की आवश्यकता है और यह हमारी प्राथमिकता होगी.

मोदी ने कहा कि लोकतंत्र में असली शक्ति संविधान ने जनता में समाहित की है. हमें अपनी शक्ति का उपयोग देश का भविष्य बनाने के लिए करना है और राजनैतिक परिवर्तन की जनआकांक्षा को पूरा करते हुए लोकसभा चुनाव में भाजपा को विजयी बनाना है. देश का उद्घार भाजपा के केन्द्र में सत्तारूढ होने से जुड़ा हुआ है.

मोदी ने कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा कि भ्रष्टाचार, घोटालों ने महंगाई को आसमान पर पहुंचा दिया है जिससे गरीब की रोटी छिन गई है, किसान की लागत बढ़ी है उसके अनुसार किसान को लागत मूल्य नहीं मिल रहा है.

इन सभाओं में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और भाजपा के वरिष्ठ नेता व उम्मीदवार मौजूद थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *