नक्सली हमले में 4 कांग्रेसी शामिल ?

रायपुर | संवाददाता: सुकमा में कांग्रेस की परिवर्तन यात्रा पर हुये नक्सली हमले में 4 कांग्रेसी नेता शामिल थे? कथित रुप से एनआईए की एक रिपोर्टा का हवाला देते हुये कहा जा रहा है कि दरभा घाटी में हुये नक्सली हमले पर एनआईए ने 14 पेज की शुरुआती रिपोर्ट तैयार की है, जिसमें यह बताया गया है कि कांग्रेस के काफिले में शामिल चार नेता नक्सलियों के संपर्क में थे और इनके द्वारा ही नक्सलियों को रूट बदलने की जानकारी पहुंचाई गई थी. इस रिपोर्ट में संक्षेप में पूरे घटनाक्रम की जानकारी दी गई है, जिसे सभवतः सोमवार को गृह मंत्रालय को सौंपा जायेगा.

गौरतलब है कि 25 मई को सुकमा जिले के दरभा घाटी में नक्सलियों ने कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष नंदकुमार पटेल, उनके बेटे दिनेश, कांग्रेस के आदिवासी नेता महेंद्र कर्मा और उदय मुदलियार की हत्या कर दी थी. इस घटना में 30 लोगों की मौत हो चुकी है. इस मामले की जांच एनआईए कर रही है.


टीवी चैनल आज तक और एवीपी न्यूज का कहना है कि एनआईए की इस रिपोर्ट में किसी साजिश की गुंजाइश से इंकार नहीं किया गया है. रिपोर्ट में बताया गया कि चार कांग्रेसी नेता इस दौरान नक्सलियों के संपर्क में थे. इन कांग्रेसी नेताओं ने नक्सलियों तक मार्ग परिवर्तन, एक-एक नेताओं की विस्तृत जानकारी, गाड़ियों के नंबर, गाड़ियों के रंग और किस गाड़ी में कौन नेता बैठा है इसकी जानकारी पहुंचाई.

इस जांच रिपोर्ट के बाद एनआई की टीम अब घायल नेताओं विधायक कावासी लकमा और वी सी शुक्ला से भी पूछताछ करेगी. एनआईए टीम इस बात की भी पड़ताल कर रही है कि अंतिम समय में क्यों परिवर्तन रैली का मार्ग बदला गया. इस रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई है कि नक्सलियों का आत्मबल बहुत बढ़ गया है और उन्होंने अपने पास हथियारों का जखीरा तैयार कर लिया है. इनके संपर्क देश-दनिया के विभिन्न आतंकी संगठनों के साथ भी है और निकट भविष्य में ये फिर से ऐसे ही बड़े वारदात को अंजाम भी दे सकते हैं. रिपोर्ट में यह भी जानकारी दी गई है कि सुकमा हमले में विदेशों से लाए गए हथियार और गोलियों का इस्तेमाल किया गया.

हालांकि टीवी चैनलों ने इस रिपोर्ट को लेकर अपने स्रोत की जानकारी नहीं दी है. यहां तक कि रिपोर्ट की प्रति भी किसी चैनल के पास उपलब्ध नहीं है. दैनिक अखबारों ने भी इस खबर को प्रकाशित किया है लेकिन किसी ने भी इस कथित एनआईए की रिपोर्ट के सूत्र के बारे में कोई जानकारी नहीं दी है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!