ओडीशा में चक्रवात का खतरा

भुवनेश्वर | एजेंसी: ओड़िशा में भयानक चक्रवात आ सकता है. ओडिशा सरकार ने बंगाल की खाड़ी में दबाव बनने के चलते चक्रवात उत्पन्न होने की आशंका को देखते हुए राज्य के 14 जिलों के जिलाधिकारियों को सतर्क रहने के निर्देश जारी किए हैं. अधिकारियों ने बुधवार को कहा कि खाड़ी में चक्रवात का निर्माण हो रहा है और तूफान के राज्य के तटीय इलाके तक पहुंचने की आशंका है. सरकार ने चक्रवात के खतरे वाले तटीय जिलों बालासोर, जगतसिंहपुर, केंद्रपाड़ा, भद्रक, पुरी और गंजम के जिलाधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि चक्रवात की चेतावनी को हल्के में न लें और जमीनी स्तर पर आपदा से निपटने के लिए तैयार रहें.

राज्य के विशेष राहत आयुक्त प्रदीप कुमार मोहपात्रा ने बताया, “हम स्थिति पर नजर रख रहे हैं. जैसे ही चक्रवात नजदीक आता है, हम तुरंत नई चेतावनियां जारी करेंगे.”

उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय आपदा कार्रवाई बल, ओडिशा त्वरित आपदा कार्रवाई बल एवं अग्निशम विभाग से भी बचाव और राहत कार्यो के लिए पहले से तैयार रहने को कहा गया है.

राज्य सरकार ने आपातकालीन परिस्थिति में हेलीकॉप्टरों की व्यवस्था के लिए केंद्र के समक्ष भी आवेदन किया है.

भुवनेश्वर मौसम विज्ञान विभाग के अधिकारी ने आईएएनएस को बताया, “खाड़ी में बन रहा दबाव तेज होकर चक्रवाती तूफान में बदल सकता है.”

मौसम विभाग ने मछुआरों को बंगाल की खाड़ी में न उतरने की चेतावनी जारी की है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *