बिहार भाजपा नेता की दिनदहाड़े हत्या

आरा | समाचार डेस्क: बिहार में भाजपा नेता की दिनदहाड़े हत्या के बाद नीतीश कुमार को अपराधियों के गिरफ्तारी के लिये 72 घंटे का अल्टीमेटम दिया गया है. शुक्रवार को बिहार में भाजपा के दो नेताओं की गोली मारकर हत्या कर दी गई है. भाजपा ने इसे बिहार में ‘जंगलराज’ की वापसी की संज्ञा दी है. बिहार के भोजपुर जिले के शाहपुर थाना क्षेत्र में अज्ञात हथियारबंद बदमाशों ने भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष विशेश्वर ओझा की शुक्रवार को दिनदहाड़े गोली मारकर हत्या कर दी. विशेश्वर बिहार विधानसभा चुनाव भी भाजपा के टिकट पर लड़ चुके हैं. इधर, भाजपा ने नीतीश सरकार को अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए 72 घंटे का अल्टीमेटम दिया है. पुलिस के अनुसार, विशेश्वर परसौला गांव से एक शादी समारोह में भाग लेकर लौट रहे थे तभी सोनवर्षा बाजार में हथियारबंद अपराधियों ने उन पर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी. गोली लगने से घटनास्थल पर ही उनकी मौत हो गई.

पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि जिले के वरिष्ठ अधिकारी घटनास्थल पर पहुंच गए हैं तथा पूरे मामले की छानबीन प्रारंभ कर दी है.


उल्लेखनीय है कि शाहपुर थाना के ओझवलिया गांव निवासी विशेश्वर पिछले वर्ष हुए विधानसभा चुनाव में शाहपुर विधानसभा क्षेत्र से भाजपा के उम्मीदवार थे. हालांकि वे चुनाव हार गए थे. इसी इलाके से वर्ष 2005 व 2010 में उनके परिवार की मुन्नी देवी विधायक रह चुकी हैं.

विशेश्वर क्षेत्र में काफी दबंग माने जाते थे, उन पर विभिन्न जिलों में डेढ़ दर्जन से ज्यादा आपराधिक मामले दर्ज हैं.

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष मंगल पांडेय ने नीतीश सरकार को अल्टीमेटम देते हुए कहा है कि अगर 72 घंटे के अंदर हत्यारों की गिरफ्तारी नहीं होती है तो भाजपा सड़क पर उतरेगी.

नेता प्रतिपक्ष प्रेम कुमार ने इसे राजनीतिक हत्या बताते हुए कहा कि बिहार में ‘जंगलराज’ की वापसी हुई है. राज्य में आम लोग भी खुद को सुरक्षित नहीं महसूस कर रहे हैं.

इसके पूर्व सारण जिले के तरैया थाना क्षेत्र में अज्ञात अपराधियों ने गुरुवार देर रात भाजपा नेता और व्यवसायी केदार सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी. पुलिस प्रथम दृष्टया हत्या का कारण आपसी विवाद बता रही है.

पुलिस के अनुसार, तरैया निवासी सिंह गुरुवार को अपनी मोटरसाइकिल से मशरख की ओर गए थे और गुरुवार देर रात उनका शव गंडार गांव के पास से बरामद किया गया है. शव के पास से मोटरसाइकिल भी पुलिस ने बरामद कर लिया है.

सारण जिले के पुलिस अधीक्षक सत्यवीर सिंह ने शुक्रवार को बताया कि सिंह को तीन गोली मारी गई है, जिससे उनकी मौत हो गई है. पुलिस ने शव को कब्जे में कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है तथा पूरे मामले की छानबीन कर रही है.

सारण जिले के भाजपा अध्यक्ष वेदप्रकाश उपाध्याय ने पुलिस प्रशासन से अपराधियों की तत्काल गिरफ्तारी की मांग की है. उन्होंने कहा कि सिंह भाजपा के सक्रिय सदस्य थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!