DDCA में चयन के लिये ‘सेक्स’!

नई दिल्ली | समाचार डेस्क: अरविंद केजरीवाल का आरोप है कि डीडीसीए में चयन के लिये ‘सेक्स’ की मांग होती है. उन्होंने एक टीवी चैनल पर बताया कि एक ऐसा मामला पीड़ित के परिवार की ओर से उनके ध्यान में लाया गया है. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को दिल्ली एवं जिला क्रिकेट संघ के एक अधिकारी पर आरोप लगाए हैं कि उसने क्रिकेट खिलाड़ियों के चयन के बदले यौन संबंध बनाने की मांग की. केजरीवाल ने एनडीटीवी से कहा, “आपको जानकर हैरानी होगी कि एक वरिष्ठ पत्रकार का फोन आया और उन्होंने बताया कि उनके बेटे का चयन हो गया है.”

केजरीवाल ने आगे कहा, “लेकिन उनके बेटे का नाम चयनित खिलाड़ियों की सूची में नहीं था. आप विश्वास नहीं कर सकते..अगले दिन उनकी पत्नी को एक एसएमएस मिला, जिसमें कहा गया था ‘आप मेरे घर आ जाइए और आपके बेटे का चयन सुनिश्चित हो जाएगा’.”

केजरीवाल ने फिलहाल पत्रकार का नाम नहीं बताया है.

केजरीवाल ने कहा कि डीडीसीए में वित्तीय अनियमितताओं के अलावा, सेक्स रैकेट सहित कई गलत चीजें होती रही हैं.

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को तय करना चाहिए कि “क्या वित्त मंत्री अरुण जेटली को बचाने के लिए डीडीसीए की जांच को अमान्य किया जाना चाहिए या नहीं.”

केजरीवाल ने आरोप लगाया है कि जेटली की नाक के नीचे डीडीसीए में भारी गोलमाल होता रहा, इसलिए उन्हें इस्तीफा दे देना चाहिए और जांच का सामना करना चाहिए.

जेटली ने हालांकि अपने ऊपर लगे आरोपों को खारिज किया है, साथ ही केजरीवाल और आम आदमी पार्टी के पांच अन्य नेताओं के खिलाफ मानहानि और आपराधिक मानहानि के मुकदमे कर दिए हैं.

उल्लेखनीय है कि 15 दिसंबर को केंद्रीय जांच ब्यूरो द्वारा दिल्ली सचिवालय में मारे गए छापे पर केजरीवाल ने केंद्र सरकार पर आरोप लगाया है कि केंद्र सरकार ने डीडीसीए मामले में जेटली से जुड़ी फाइलें खंगालने के उद्देश्य से उनके कार्यालय पर छापेमारी करवाई.

हालांकि सीबीआई का कहना है कि उसने मुख्यमंत्री कार्यालय पर छापेमारी नहीं की, बल्कि मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव राजेंद्र कुमार के कार्यालय पर भ्रष्टाचार के एक अन्य मामले में छापेमारी की थी.


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *