दिग्विजय ने पूछा मूर्ति नहीं तो पूजा किसकी

भोपाल | समाचार डेस्क: कांग्रेस के महासचिव दिग्विजय सिंह ने सवाल किया है कि जब भोजशाला में मूर्ति ही नहीं है तो बीएचपी किसकी पूजा करना चाहता है? भोपाल पहुंचे दिग्विजय सिंह ने मध्य प्रदेश के भोजशाला में वसंत पंचमी के दिन पूजा तथा नमाज पढ़ने को लेकर पनपे तनाव पर अपनी राय व्यक्त की है. मध्य प्रदेश के धार जिले की भोजशाला में वसंत पंचमी के मौके पर नमाज और पूजा को लेकर चल रहे विवाद के बीच राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह ने सवाल उठाते हुए कहा कि भोजशाला में जब कोई मूर्ति ही नहीं है तो विश्व हिंदू परिषद के लोग किसकी पूजा करने जाते हैं. भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण ने वसंत पंचमी शुक्रवार को होने के कारण 12 फरवरी को सूर्योदय से दोपहर बारह बजे तक पूजा और एक बजे से तीन बजे तक नमाज की व्यवस्था की है. यहां मंगलवार और वसंत पंचमी को पूजा और शुक्रवार को नमाज होती आई है.

सतना जिले के मैहर विधानसभा क्षेत्र में हो रहे उपचुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी के समर्थन में प्रचार करके भोपाल पहुंचे कांग्रेस के महासचिव सिंह ने बुधवार को संवाददाताओं से चर्चा करते हुए कहा कि भोजशाला में जब किसी की मूर्ति ही नहीं है तो विहिप वहां किसकी पूजा करने जाते हैं.

मुंबई हमले को लेकर हेडली द्वारा किए जा रहे खुलासों पर सिंह ने कहा कि अभी राज पर से पर्दा उठना शुरू हुआ है और भी कई राज का उजागर होना बाकी है.

One thought on “दिग्विजय ने पूछा मूर्ति नहीं तो पूजा किसकी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *