बेहतर हैं ‘मुगल-ए-आजम’ के ‘सलीम’, दिलीप कुमार

मुंबई | मनोरंजन डेस्क: खुदा का शुक्र है कि 91 वर्षीय दिलीप कुमार निमोनिया होने के बाद भी आईसीयू में नहीं हैं. यह इस बात का संकेत है कि बीते जमाने के ‘ट्रेजेडी किंग’ दिलीप कुमार के साथ किसी तरह की ‘ट्रेजेडी’ अभी नहीं होने जा रही है. इस बात की पुष्टि उनके पारिवारिक मित्र उदय तारा नयन ने की है. उदय तारा नयन ने कहा,”वह अब ठीक हैं और एंटीबायोटिक दवाओं पर हैं. उनका निमोनिया का इलाज चल रहा है. उन पर इलाज का सकारात्मक असर दिख रहा है. वह आईसीयू में नहीं, बल्कि सामान्य वार्ड में हैं. उन्होंने नाश्ता भी किया था और अब स्वस्थ हो रहे हैं.” अधिक उम्र में निमोनिया होने पर इस बात को गंभीरता से लिया जाता है कि मरीज पर दिये जा रहे एंटीबायोटिक का असर हो रहा है या नहीं. दिलीप कुमार पर एंटीबायोटिक का असर हो रहा है इसलिये खुदा का शुक्र है. दिलीप कुमार को शनिवार को मुंबई के लीलावती अस्पताल में भर्ती कराया गया था. उन्हें सीने में संक्रमण की शिकायत थी.

पिछले ही वर्ष दिलीप कुमार को सितंबर माह में दिल का दौरा पड़ा था. दिलीप कुमार के चाहने वालों के लिये अच्छी खबर यह है कि फिल्म ‘मुगल-ए-आजम’ के ‘सलीम’ खतरे से बाहर हैं. ठीक होकर वे अपने ‘अनारकली’, सायरा बानो के साथ जीवन के कुछ वर्ष और व्यतीत कर सकेंगे. वैसे भी ‘सलीम’ याने दिलीप कुमार किसी से डरते नहीं हैं.


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!