कुत्ते ने शबाना को किस किया!

मुंबई | मनोरंजन डेस्क: कुत्तों को सख्त नापसंद करने वाली शबाना आज़मी को फिल्म ‘नीरजा’ के सेट पर पोमेरेनियन कुत्ते ने चूम लिया. इसके बाद शबाना ने ट्वीय किया कि एक कलाकार को क्या नहीं करना पड़ता. दरअसल, शूटिंग के समय जब शबाना ने पोमेरेनियन कुत्ते को गोद में लिया तो उसने गाल को चाट दिया. दिग्गज अभिनेत्री शबाना आजमी आगामी फिल्म ‘नीरजा’ में अहम भूमिका में नजर आएंगी. वह कहती हैं कि क्योंकि उन्हें कुत्ते पसंद नहीं हैं, इसलिए फिल्म के सेट पर एक पोमेरेनियन डॉग के साथ शूटिंग करने में असहजता हुई. शबाना ने रविवार को ट्विटर पर लिखा, “एक को कलाकार क्या नहीं करना पड़ता! मुझे कुत्ते पसंद नहीं, लेकिन शूटिंग के दौरान एक पोमेरेनियन डॉग मेरे ऊपर उछल-कूद करता रहा और मेरे गोद में लेने पर मेरा चेहरा चाटा.”

एक अन्य ट्वीट में उन्होंने लिखा, “दिन में ‘नीरजा’ के लिए अति भावुक दृश्यों और रात में एक खुशहाल गीत की शूटिंग करती रही. और हमसे पूछा जाता है कि कलाकार सनकी क्यों होते हैं?”


‘नीरजा’ विमानन कंपनी पैन एम में फ्लाइट अटैंडेंट रहीं नीरजा भनोट के जीवन पर आधारित है. इस कंपनी के एक विमान को आतंकवादियों ने अगवा कर लिया था. नीरजा की जान आतंकवादियों से यात्रियों को बचाने के क्रम में गई थी. फिल्म में नीरजा की भूमिका अभिनेत्री सोनम कपूर निभा रही हैं.

नीरजा भनोट

नीरजा ने 5 सितंबर 1986 को कराची हवाई अड्डे पर आतंकवादियों ले 400 यात्रियों की जान बचाई थी. इसके लिये नीरजा ने सूजबूझ का परिचय दिया था. उसने विमान का फ्यूल खत्म होते ही यात्रियों को आपातकालीन द्वार से बाहर निकाल दिया. इस कोशिश में उन्हें आतंकवादियों ने गोलियों से भून दिया. नीरजा को इस वीरता और साहस के लिए मरणोंपरांत सैन्य पदक अशोक चक्र दिया गया था. यही नहीं पाकिस्तान की ओर से उन्हें ‘तमगा-ए-इन्सानियत’ दिया गया था. अपनी वीरगति के समय नीरजा भनोत की उम्र 23 साल थी. इस प्रकार वे भारत के सर्वोच्च नागरिक वीरता पदत अशोक चक्र प्राप्त करने वाली पहली महिला और सबसे कम आयु की नागरिक बन गईं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!