रमन सिंह के ओएसडी से ईडी की पूछताछ

रायपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह के ओएसडी संदीप कुमार अग्रवाल से प्रवर्तन निदेशालय यानी ईडी ने लंबी पूछताछ की है. माना जा रहा है कि छत्तीसगढ़ में बर्खास्त आईएएस अधिकारी बीएल अग्रवाल के साथ उनके कनेक्शन को लेकर पूछताछ हुई है. संदीप अग्रवाल ने भी स्वीकार किया है कि उनसे मंगलवार को ईडी ने पूछताछ की है. यह पूछताछ बर्खास्त आईएएस बाबूलाल अग्रवाल के करोड़ों रुपये के भ्रष्टाचार के मामले में चर्चित कंपनी प्राइम इस्पात को लेकर हुई है.

गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ के बर्खास्त आईएएस बाबूलाल अग्रवाल के परिजनों का उपक्रम प्राइम इस्पात है. फिलहाल इस कंपनी के निर्देशक मंडल में पवन अग्रवाल, अशोक अग्रवाल, उत्तम चंद अग्रवाल, सुश्री शालिनी अग्रवाल, शिव शंकर मिश्रा, मनोहरलाल मिश्रा और अमित कुमार शर्मा शामिल हैं.


बाबूलाल अग्रवाल के सीए सुनील अग्रवाल के खिलाफ ईडी ने पिछले साल अप्रैल में एक मामला दर्ज किया था. सीए सुनील अग्रवाल पर आरोप है कि उसने राजीव नगर स्थित कार्यालय में खरोरा और आसपास के गांव के लोगों के फर्जी दस्तावेज तैयार करवाकर पेन कार्ड बनवाए. फिर यूनियन बैंक ऑफ इंडिया रामसागर पारा और पंडरी में बचत खाता खुलवाया. फिर इस पूरे मामले से अनजान 447 ग्रामीणों के खातों में रकम डालकर प्राइम इस्पात लिमिटेड के शेयर खरीदे व बेचे गए. इसमें करीब 39 करोड़ की हेराफेरी की गई थी.

आरोप है कि 21 मई 2004 को रजिस्टर्ड इस कंपनी के कई लाख के शेयर मुख्यमंत्री के ओएसडी संदीप कुमार अग्रवाल और उनके परिवार के सदस्यों के नाम से भी खरीदे गये थे. माना जा रहा है कि प्रवर्तन निदेशालय ऐसे लोगों से पूछताछ कर रहा है, जिनकी बाबूलाल अग्रवाल और उनके परिजनों की कंपनी प्राइम इस्पात लिमिटेड में कोई भी भूमिका रही है.

संदीप अग्रवाल का कहना है कि शासकीय सेवा में आने से पहले उनके व उनके परिवार के सदस्यों द्वारा कुछ शेयर खरीदे गये थे, जिसके लिये मंगलवार को उन्हें साक्ष्य के लिये बुलाया गया था. संदीप अग्रवाल के अनुसार उनके और उनके परिवार द्वारा 2005-06 और 2006-07 में शेयर खरीदे गये थे. परिवार के सदस्यों द्वारा 2007 में शेयर बेच दिये गये थे. संदीप अग्रवाल का कहना है कि उस समय वे शासकीय सेवा में नहीं थे और इन शेयरों का उनका वर्तमान शासकीय सेवा से कोई लेना-देना नहीं है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!