11 दलों वाले तीसरे मोर्चे का गठन

नई दिल्ली | समाचार डेस्क: चार वामपंथी दलों और सात अन्य दलों ने मिल कर आगामी लोकसभा चुनाव के मद्देनज़र तीसरे मोर्चे के गठन की घोषणा कर दी है.

ये मोर्चा लोकसभा में गैर-भाजपा और गैर-कांग्रेसी दलों के खिलाफ चुनाव लड़ेंगा. अभी तीसरे मोर्चे के पीएम पद के उम्मीदवार के नाम पर अभी सहमति नहीं बनी है.

मार्क्सलवादी कम्युनिस्ट पार्टी के महासचिव प्रकाश करात ने मंगलवार को बताया कि 11 दलों का तीसरा मोर्चा लोकसभा चुनाव मिलकर लड़ेगा.

सभी दलों की बैठक के बाद माकपा महासचिव ने यहां संवाददाताओं से कहा, “11 दलों के नेताओं ने लोकसभा चुनाव मिलकर लड़ने का फैसला किया है.” उन्होंने कहा, “ये मुख्य रूप से गैर भाजपा, गैर कांग्रेसी दल हैं.”

उन्होंने आगे कहा, “हम नहीं चाहते कि कांग्रेस और संप्रग (संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन) की सत्ता कायम रहे. जहां तक भाजपा की नीतियों का सवाल है तो वह भी कांग्रेस पार्टी से भिन्न नहीं है.”

11 पार्टियों में चार वामपंथी दल, समाजवादी पार्टी, जनता दल-यूनाइटेड, जनता दल-सेक्यूलर, एआईएडीएमके, बीजू जनता दल, असम गण परिषद और झारखंड विकास मोर्चा शामिल हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *