EX LS Speaker बलराम जाखड़ नहीं रहे

नई दिल्ली | समाचार डेस्क: पूर्व लोकसभा अध्यक्ष बलराम जाखड़ का बुधवार सुबह निधन हो गया. वह 92 वर्ष के थे. उन्होंने नई दिल्ली स्थित अपने आवास में सुबह लगभग सात बजे अंतिम सांस ली.

उनके बेटे और पंजाब से कांग्रेस विधायक दल के पूर्व नेता सुनील जाखड़ ने बताया कि उनका अंतिम संस्कार पंजाब के अबोहर शहर में स्थित उनके पैतृक गांव पंचकोसी में गुरुवार सुबह 11 बजे किया जाएगा.

बलराम जाखड़ को एक साल पहले मस्तिष्काघात हुआ था. उनके परिवार में दो बेटे और दो बेटियां हैं.

वह 1980 से 1989 के बीच लोकसभा अध्यक्ष रहे और इस दौरान उन्होंने संसदीय कार्यो के स्वचालन और कम्प्यूटीकरण में महत्पूर्ण भूमिका निभाई थी.

इसके अलावा उन्होंने संसद संग्रहालय की स्थापना में भी सक्रिय भूमिका निभाई.

वह पूर्व प्रधानमंत्री पी.वी. नरसिम्हा राव के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार में केंद्रीय कृषि मंत्री और 30 जून, 2004 से 30 मई, 2009 के बीच मध्यप्रदेश के राज्यपाल भी रहे.

प्रधानमंत्री मोदी ने बुधवार को कांग्रेस के वयोवृद्ध नेता बलराम जाखड़ के निधन पर यह कहते हुए शोक प्रकट किया कि उन्होंने संसदीय लोकतंत्र को समृद्ध बनाया. मोदी ने ट्विटर पर लिखा, “बलराम जाखड़ जी एक लोकप्रिय नेता थे, जिन्होंने अपने लंबे राजनीतिक सफर में हमारे संसदीय लोकतंत्र को समृद्ध बनाया.”

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने भी उनके निधन पर शोक जताया.

उन्होंने कहा, “कांग्रेस पार्टी और पूरा देश उनके उस योगदान को हमेशा याद रहेगा, जो उन्होंने अपने लंबे सार्वजनिक जीवन के दौरान दिया. विशेषकर उन कार्यो के लिए जो उन्होंने कृषक समुदाय के लिए किए.”

सोनिया ने कहा, “चाहे एक विधायक हों, सांसद हों, मंत्री हों, अध्यक्ष या राज्यपाल हों, जाखड़ कृषि व किसानों से जुड़े मुद्दों को उठाने में हमेशा आगे रहे और संसद सचिवालय के आधुनिकीकरण में उनकी भूमिका अग्रणी रही.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *