नकली सोना बेचने की कोशिश, चार धराए

महासमुंद | एजेंसी: पीतल को असली सोना बताकर बेचने की फिराक में घूम रहे चार लोगों को क्राइम पुलिस ने ग्राहक बनकर गिरफ्तार कर लिया है. जिला क्राइम ब्रांच की टीम को सूचना मिली कि कुछ लोग थाना बागबाहरा के ग्राम बंसुलाडबरी में डेरा डालकर रह रहे हैं. अपने पास लगभग एक किलो सोना है, बताकर गुप्त तरीके से बेचने के फिराक में ये चारों लोगों से संपर्क में थे.

जिला क्राइम ब्रांच की टीम ने मुखबीर की इस सूचना पर स्वयं ग्राहक बनकर इसकी सत्यता जानने के लिए जब इनसे संपर्क किया, तो पता चला कि इनका अपराध करने का एक खास तरीका है. ये लोग एैसे लोगों की तलाश करते हैं, जो सोना कम कीमत में खरीदने के चक्कर में इनके झांसे में आ जाते हैं.

पकड़े गए अपराधियों के बारे में क्राइम पुलिस ने जानकारी दी है कि ये पीतल को लाल कपड़े में लपेट कर जमीन के अंदर कहीं छुपा देते हैं. जब ग्राहक सोना देखने की मांग करता है तो वो तंत्र-मंत्र द्वारा ये सोना निकालने का ढोंग करते हैं. इस दौरान इस तरह का माहौल बनाते हैं कि खरीददार को वह सोना असली ही लगता है, जबकि वह पीतल में पॉलिश रहता है और ये उससे मिलता असली सोने की बालियां रखते हैं और उसे सैंपल के रूप में दे देते हैं.

खरीददार इनके झांसे में आकर सैम्पल वाला सोना सुनार के पास जाकर चेक कराता है तो वह असली होता है. इस तरह खरीददार इनके झांसे में आ जाता है और सोने खरीदने का सौदा पक्का हो जाता है. पीतल बनाम सोना बिकते ही ये अपराधी किसी अ.य गांव की ओर तत्काल पलायन कर जाते हैं.

ग्राहक बनकर गई क्राइम ब्रांच की टीम को भी इन्होंने वहीं पीतल वाला सोना दिखाया. तो त.काल क्राईम ब्रांच की टीम ने उन्हें धर दबोचा. पूछताछ करने पर इन्होंने अपना नाम कालीदास, रामूदास, सन्नीदास, बिजुदास सभी ग्राम पेन्टाकोटा जिला भुवनेश्वर ओडिशा के रहने वाले बताए.

क्राईम ब्रांच की टीम जांच कर रही है कि इन्होंने इस क्षेत्र में किसी को ठगा तो नहीं है और इनके फोटो भेजकर इनके बारे में जानकारी एकत्र कर रही है कि ये लोग किसी क्षेत्र में अपराध के लिए वांछित तो नहीं है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *